MP INFO

टारगेट के साथ स्मार्ट और स्ट्रांग कार्य-प्रणाली सफलता की गारंटी : श्री पटेल

राज्यपाल ने प्लेसमेंट दिवस समारोह को किया संबोधित

राज्यपाल श्री मंगुभाई पटेल ने कहा है कि टारगेट के साथ स्मार्ट और स्ट्रांग कार्य- प्रणाली सफलता की गारंटी है। संकल्प, समर्पण, सत्य-निष्ठा और सकारात्मकता के साथ कार्य करने पर कोई भी लक्ष्य असाध्य नहीं होता है। उन्होंने कहा कि जीवन में संतोष उपलब्धियों में नहीं निरंतर प्रयासों में मिलता है। राज्यपाल श्री पटेल टेक्नोक्रेट्स ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूशंस के प्लेसमेंट दिवस समारोह को संबोधित कर रहे थे।

राज्यपाल श्री पटेल ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा सबके विश्वास, सबके साथ और सबके प्रयासों से समावेशी विकास का कार्य किया जा रहा है। समावेशी विकास के लिए सबका सहयोग जरूरी है। उन्होंने बीज से वृक्ष बनने के दृष्टांत का उल्लेख करते हुए कहा कि जिस तरह बीज को सही जगह पर रोपने और उसकी उचित देखभाल करने पर वह बड़ा वृक्ष बनकर पूरे क्षेत्र को अपने फलों से लाभान्वित करता है ठीक उसी तरह समाज भी सफल विद्यार्थियों से आचरण की अपेक्षा करता है। भविष्य में मिलने वाली सुख, सुविधाओं के साथ अपने माता-पिता के त्याग और तपस्या को कभी नहीं भूलें। ज्ञान और संस्कारों का आचरण में व्यवहार जरूरी है।

केंद्रीय इस्पात एवं ग्रामीण विकास राज्य मंत्री श्री फग्गन सिंह कुलस्ते ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा नई शिक्षा नीति से शिक्षा क्षेत्र को प्रोत्साहित करने के प्रभावी कार्य किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि कैरियर में अच्छा प्लेसमेंट मिलना जीवन का महत्वपूर्ण पड़ाव है। उन्होंने सभी विद्यार्थियों को उज्जवल भविष्य की शुभकामनाएँ दी।

विज्ञान, प्रौद्योगिकी और सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम मंत्री श्री ओमप्रकाश सखलेचा ने कहा कि राज्य सरकार ने स्टार्टअप और सूचना प्रौद्योगिकी के लिए नया ईको सिस्टम बनाया है। व्यापार और व्यवसाय के लिए अपार संभावनाएँ और सुविधाएँ उपलब्ध है। सूचना प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में भवन और अन्य सुविधाओं के लिए सरकार द्वारा 40 प्रतिशत अनुदान दिया जा रहा है। महिला उद्यमियों के लिए 50 प्रतिशत का प्रावधान किया गया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस जैसी नई तकनीकों के क्षेत्र में आगे बढ़ने के प्रयास किए जाएँ। प्लेसमेंट प्राप्त विद्यार्थियों को बधाई देते हुए कहा कि जो विद्यार्थी चयनित नहीं हो सके हैं, वे कौशल उन्नयन के प्रयासों पर ध्यान दें।

कार्यक्रम में विभिन्न क्षेत्रों के विशेषज्ञों ने विद्यार्थियों को संबोधित किया। प्रतिष्ठित कंपनियों में चयनित विद्यार्थियों और उनके पालकों को सम्मानित भी किया गया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button