अंतरराष्ट्रीय

Biden से तवज्जो नहीं मिलने पर बौखलाया पाकिस्तान, Qureshi ने कहा – ‘कोई हमें नजरअंदाज नहीं कर सकता’

america

पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कहा कि जब पिछली बार डेमोक्रेट सत्ता में थे तब हमें उनके साथ काम करने का मौका मिला था और वह अंडरस्टैंडिंग अब काम आएगी. हमारी राह में चुनौतियां होंगी, लेकिन मेरा मानना है कि पाकिस्तान के पास ऑफर करने के लिए बहुत कुछ है.

इस्लामाबाद: अमेरिका (America) की नई सरकार ने भले ही अब तक पाकिस्तान (Pakistan) को कोई तवज्जो न दी हो, लेकिन पाकिस्तान को लगता है कि कोई भी उसे नजरअंदाज नहीं कर सकता. इमरान खान (Imran Khan) के बड़बोले विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी (Shah Mehmood Qureshi) का कहना है कि अमेरिका में चाहे कोई भी सत्ता में आए, वह पाकिस्तान की अनदेखी नहीं कर सकता. उन्होंने कहा कि नई दुनिया की स्थापना की जा रही है, जिसमें नई प्राथमिकताएं सामने आ रहीं हैं लेकिन पाकिस्तान की अनदेखी नहीं की जा सकती.

‘Offer करने के लिए बहुत कुछ’

विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी (Shah Mehmood Qureshi) ने जियो टीवी से बात करते हुए कहा कि पाकिस्तान (Pakistan) और अमेरिका की नई सरकार में काफी समानताएं हैं. उन्होंने आगे कहा, ‘हमारी राह में चुनौतियां होंगी, मैं इससे इनकार नहीं कर रहा, लेकिन मेरा मानना है कि पाकिस्तान के पास ऑफर करने के लिए बहुत कुछ है. पाकिस्तान को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता है और मुझे लगता है कि US प्रशासन पाकिस्तान की अनदेखी नहीं करेगा’.

ये भी पढ़ें -Biden के ‘भारत प्रेम’ से China को लगी मिर्ची, Global Times ने कहा, ‘तिब्बत कार्ड खेला तो बुरे होंगे परिणाम’

VIDEO

Qureshi ने पिछले संबंधों का दिया हवाला

इस सवाल के जवाब में कि पाकिस्तान जो बाइडेन (Joe Biden) प्रशासन से क्या उम्मीद करता है? कुरैशी ने कहा कि अमेरिकी राष्ट्रपति ने जिन लोगों को अपनी टीम में चुना है, वे सभी पाकिस्तान को अच्छी तरह से जानते हैं. लिहाजा हमें कोई परेशानी नहीं होगी. कुरैशी ने कहा कि जब पिछली बार डेमोक्रेट सत्ता में थे तब उन्हें उनके कई नेताओं के साथ काम करने का मौका मिला था और वह अंडरस्टैंडिंग अब काम आएगी. पाकिस्तानी विदेश मंत्री ने कहा कि सीनेटर के रूप में बाइडेन विदेश संबंध समिति के सम्मानित सदस्य थे.

Pakistan को लेकर स्पष्ट है राय

इमरान खान के मंत्री ने कहा, ‘पाकिस्तान और दक्षिण एशिया के बारे में जो बाइडेन की बहुत स्पष्ट राय है. अफगानिस्तान को लेकर अमेरिका और पाकिस्तान का झुकाव एक जैसा है’. उन्होंने आगे कहा कि कई मुद्दों पर इमरान खान और बाइडेन साझा हित रखते हैं. बता दें कि अमेरिका और पाकिस्तान के रिश्ते डोनाल्ड ट्रंप के कार्यकाल में काफी प्रभावित हुए थे. पाकिस्तान की भारत विरोधी नीति की वजह से ट्रंप प्रशासन ने उससे दूरी बना ली थी. इसके अलावा, कई अन्य देशों ने भी उसे झटका दिया था.    

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button