मध्य प्रदेश

बीमा नहीं मिलने से नाराज किसानों ने आगरा-मुंबई हाईवे जाम किया, कलेक्ट्रेट का घेराव कर जल्द राशि नहीं मिलने पर उग्र आंदोलन की चेतावनी दी

  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Madhya Pradesh Farmers Blocked National Highway Agra Mumbai 52 In Indore Over Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana Amount

शाजापुर3 घंटे पहले

किसानों द्वारा चक्काजाम करने से काफी देर तक वाहन चालक परेशान होते रहे।

  • नेशनल हाईवे को जाम करने वाले मक्सी और गडरौली के किसानों ने बताया कि उनका नाम बीमा राशि की सूची में ही नहीं
  • कलेक्टर का घेराव कर नारेबाजी करने वालों किसानों से एसडीएम की बहसबाजी हुई, कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन

फसल बीमा की राशि और खराब हुई फसल के सर्वे की मुआवजा राशि को लेकर शनिवार को शाजापुर के किसान सड़क पर उतर आए। मक्सी और गडरौली के किसानों ने नेशनल हाईवे आगरा-मुंबई 52 पर चक्काजाम कर दिया। किसानों का कहना था कि बीमा राशि की सूची में हमारा नाम नहीं है। चक्काजाम के कारण दोनों ओर वाहनों की लंबी कतार लग गई।

वहीं, अन्य किसानों ने बीमा राशि को लेकर सुनवाई नहीं होने से कलेक्ट्रेट का घेराव कर दिया। किसानों ने यहां जमकर नारेबाजी की। इस दौरान किसानों को समझाने आए एसडीएम साहब लाल सोलंकी से किसानों की बहसबाजी भी हो गई। काफी देर हंगामे के बाद किसानों ने कलेक्टर दिनेश जैन को ज्ञापन सौंपकर जल्द बीमा राशि दिलवाने की मांग की।

कलेक्ट्रेट में किसानों और एसडीएम के बीच बहस हो गई।

कलेक्ट्रेट में किसानों और एसडीएम के बीच बहस हो गई।

शनिवार को शाजापुर जिले के एक दर्जन से ज्यादा गांव के किसान बीमा राशि और खराब फसल की मुआवजा राशि को लेकर कलेक्ट्रेट कार्यालय पहुंचे। बड़ी संख्या में किसानों ने यहां कलेक्ट्रेट का घेराव कर दिया और जमकर नारेबाजी करते हुए धरने पर बैठ गए।

किसानों का आरोप है कि 2018 -19 में खराब हुई सोयाबीन की फसल का अभी तक बीमा नहीं मिला है। इस साल भी बारिश के कारण पूरी तरह से फसल नष्ट हो गई। प्रशासन ने सही तरीके से फसलों का सर्वे नहीं करवाया, जिसके कारण उनकी बीमा राशि उन तक नहीं पहुंच पाई। कइयों का कहना था कि बीमा राशि काट दी गई है।

किसानों ने मांग पूरी नहीं होने पर उग्र आंदोलन की चेतावनी दी।

किसानों ने मांग पूरी नहीं होने पर उग्र आंदोलन की चेतावनी दी।

भड़के किसानों को शांत करने पहुंचे एसडीएम साहब लाल सोलंकी से किसानों की बहसबाजी हो गई। काफी समझाइश के बाद किसानों ने एक शिकायती आवेदन कलेक्टर दिनेश जैन को दिया और उनसे जल्द बीमा राशि दिलवाने की मांग की। ऐसा नहीं होने पर किसानों ने उग्र आंदोलन की चेतावनी भी दी। कलेक्टर दिनेश जैन ने बताया कि 216 हल्का क्षेत्र के किसानों के खातों में बीमा की राशि नहीं आई है जो प्रतिदिन बीमा राशि कंपनी द्वारा सतत दी जा रही है। धीरे-धीरे किसानों के खातों में राशि आती जा रही है। कलेक्टर ने किसानों से कहा कि कुछ समय और इंतजार करें, अगर बीमा राशि नहीं मिलती है तो हम उसके लिए आगे बीमा कंपनी से बात करेंगे।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button