राजनीति

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का भाषण कौन लिखता है? मिल गया इस सवाल का जवाब

  • PM Narendra Modi की स्पीच कौन लिखता है इसको लेकर हुआ खुलासा
  • RTI के तहत पूछे गए सवाल का पीएमओ ने दिया जवाब
  • पीएमओ ने बताया आखिर किस तरह तैयार होता है प्रधानमंत्री का भाषण

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ( PM Narendra Modi Speech ) की गिनती देश के ऐसे राजनेताओं में होती है जो अपने संवाद के जरिए जनता से संबंध कायम करते हैं। पीएम मोदी के भाषणों की ही बदौलत बीजेपी चुनाव दर चुनाव अपना परचम लहराने में काफी हद तक कामयाब भी रहती है।

फिर चाहे वो अपने विरोधियों पर तंज कसना हो या फिर मन की बात के जरिए जनता के बीच अपनी मौजूदगी दर्ज करानी हो, पीएम मोदी के बोलने या यूं कहें उनके भाषण की कला ने ही उनकी लोकप्रियता को बढ़ाने का काम किया है।

कर्नाटक की सियासत में ‘सेक्स टेप’ से मची खलबली, इस दिग्गज राजनेता के खिलाफ दर्ज हुई शिकायत

यही वजह है कि अकसर लोग ये जानने की कोशिश करते हैं कि आखिर पीएम मोदी के भाषण लिखता कौन है? तो आपको बता दें कि हैं कि इस सवाल का जवाब अब मिल गया है।

पीएम मोदी के भाषण को लेकर आरटीआई के तहत पूछे गए सवाल का जवाब सामने आया है। इसमें खुलासा किया गया है कि आखिर पीएम मोदी के भाषण लिखने के पीछे कौन है?

39.jpg

पीएम मोदी करीब-करीब रोजाना किसी न किसी मुद्दे पर भाषण देते हैं। कभी मौका होता है पॉलिटिकल रैली का तो कभी कोई लॉन्चिंग इवेंट, कभी छात्र-छात्राओं को संबोधन तो कभी इंटरनैशनल कॉन्फ्रेंस में भी संबोधित करना होता है।

ऐसे में एक सवाल सबके जेहन में जरूर आता होगा। सवाल यह कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए ये भाषण आखिर लिखता कौन है।

इस सवाल के जवाब के लिए ‘इंडिया टुडे’ ने प्रधानमंत्री कार्यालय में एक आरटीआई दाखिल की। इस आरटीआई के तहत उन लोगों के नाम और नंबर जानने की कोशिश की गई, जो अलग-अलग मौकों पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए भाषण तैयार करते हों।

यही नहीं, इसके जरिए यह भी जानने का प्रयास हुआ कि भाषण को तैयार करने वाले लोगों को इसके एवज में तकरीबन कितना पैसा दिया जाता है। इस आरटीआई का जवाब भी आ गया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भाषण को लेकर सूचना अधिकार कानून के तहत पीएमओ से जानकारी मांगी गई। जानते हैं प्रधानमंत्री कार्यालय ने इन सवालों का क्या जवाब दिया।

भाषण को अंतिम रूप खुद पीएम ही देते हैं

आरटीआई के तहत जो अर्जी दायर की गई थी, इसके जवाब में पीएमओ ने बताया कि प्रधानमंत्री अपने भाषण को अंतिम रूप खुद देते हैं।

जिस तरह का कार्यक्रम होता है, उसके मुताबिक उन्हें अलग-अलग व्यक्तिओं, अधिकारियों, विभागों, इकाइयों, संगठनों आदि की ओर से जानकारियां दी जाती हैं। इन जानकारियों के आधार पर अंतिम रूप से भाषण पीएम खुद तैयार करते हैं।

इस आरटीआई में भाषण पर किए जाने वाले खर्च और भाषण तैयार करने की टीम को लेकर भी जानकारी मांगी गई थी, हालांकि अब तक इसका जवाब नहीं मिला है।

28.jpg

भाषण को अंतिम रूप खुद पीएम ही देते हैं

आरटीआई के तहत जो अर्जी दायर की गई थी, इसके जवाब में पीएमओ ने बताया कि प्रधानमंत्री अपने भाषण को अंतिम रूप खुद देते हैं।

जिस तरह का कार्यक्रम होता है, उसके मुताबिक उन्हें अलग-अलग व्यक्तिओं, अधिकारियों, विभागों, इकाइयों, संगठनों आदि की ओर से जानकारियां दी जाती हैं। इन जानकारियों के आधार पर अंतिम रूप से भाषण पीएम खुद तैयार करते हैं।

मौसम विभाग ने जारी किया सबसे बड़ा अलर्ट, देश के इन इलाकों में बर्फीले तूफान की चेतावनी तो इन राज्यों में एक बार फिर बढ़ेगी ठंड

खर्च और टीम को लेकर नहीं दी गई जानकारी

इस आरटीआई में भाषण पर किए जाने वाले खर्च और भाषण तैयार करने की टीम को लेकर भी जानकारी मांगी गई थी, हालांकि अब तक इसका जवाब नहीं मिला है।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button