मध्य प्रदेश

जबलपुर में 41 दिन का बच्चा मिला कोरोना पॉजिटिव, 126 हुए कोरोना पॉजीटिव, पहला केस 20 मार्च को सामने आया था

  • मेडिकल कॉलेज की लेब से 20 सेंपल की रिपोर्ट मिली, जिनमें दो पॉजीटिव पाए गए
  • जिले में अब तक कोरोना पॉजीटिव चार लोगों की मौत हुयी है। 29 मरीज स्वस्थ होकर अपने घरों को लौट गए हैं

दैनिक भास्कर

May 10, 2020, 07:29 PM IST

जबलपुर. आज पांच और लोगों की कोरोना संबंधी रिपोर्ट पॉजीटिव आने के बाद इनकी संख्या बढ़कर 126 हो गयी। मेडिकल कॉलेज की लेब से 20 सेंपल की रिपोर्ट मिली, जिनमें दो पॉजीटिव पाए गए। इनमें एक 41 दिन का बच्चा और 32 वर्षीय युवक शामिल हैं। ये दोनों पहले से ही मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती हैं। आईसीएमआर लैब और मेडिकल कॉलेज की लैब से आज दोपहर मिली 72 सेम्पल की रिपोर्ट में कोरोना के तीन और पॉजिटिव मरीज मिले हैं। इसमें से एक व्यक्ति पहले से ही होम क्वारेंटाइन है। जबलपुर में पहला केस 20 मार्च को सामने आया था।



इसके पहले कल रात 59 सेंपल की रिपोर्ट प्राप्त हुयी थी, जिनमें से दो पॉजीटिव मिले। इसके बाद इनकी संख्या 119 से बढ़कर 121 हो गयी थी। सुबह दो और मरीज मिलने के बाद संख्या 123 हो गयी। आज दोपहर मिली 72 सेम्पल की रिपोर्ट में कोरोना के तीन और पॉजिटिव मरीज मिले हैं। इन्हें मिलाकर जबलपुर में कोरोना पॉजिटिव की संख्या 126 हो गई है। जिले में अब तक कोरोना पॉजीटिव चार लोगों की मौत हुयी है। 29 मरीज स्वस्थ होकर अपने घरों को लौट गए हैं। शेष मरीजों का यहां अस्पताल में इलाज चल रहा है। 

कटनी में मजदूरों से भरी बस पलटी


रविवार सुबह 4 बजे भोपाल से 28 प्रवासी मजदूरों को लेकर उमरिया-शहडोज जा रही बस क्रमांक एमपी 04 पीए 2787 रीठी थाना इलाके के देवगांव में स्टेयरिंग फेल होने से पलट गई। बस में बैठे सभी मजदूर सुरक्षित हैं, किसी को कोई चोट नहीं आई। रीठी पुलिस ने तत्काल मौके पर पहुंचकर मदद की और दूसरी बस की व्यवस्था कर सभी मजदूरों को चाय-नाश्ता कराकर उनके घर ग्राम जिला उमरिया-शहडोल के लिए रवाना किया।

श्रमिकों को ले जा रही ट्रेन के कोच की कपलिंग में आया गेप


जबलपुर आ रही श्रमिक स्पेशल ट्रेन के इंजन से चौथे नंबर के कोच की कपलिंग में गेप आ गया था, जिस वजह से कोच में झटके लग रहे थे। ट्रेन के गार्ड ने तत्काल जानकारी जबलपुर कंट्रोल रूम को दी। ट्रेन को विक्रमपुर से भिटोनी के बीच रोका गया। तत्काल जबलपुर से मैकेनिकल विभाग के द्वारा एक टीम भेजी गई। इस टीम के सदस्यों ने तत्काल कपलिंग को बदला और फिर ट्रेन को जबलपुर लाया गया। जबलपुर स्टेशन में बाकी खामियों को भी दूर कर दिया गया और फिर ट्रेन रवाना कर दी गई।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button