राजनीति

चीन के नाम से थरथराती है मोदी सरकार और जेएंडके में संसाधनों की लूट: महबूबा मुफ्ती

  • जेएंडके में जमीन खरीदने के विरोध में पीडीपी कार्यकर्ताओं को किया गिरफ्तार
  • मुफ्ती ने कहा, गरीबों को रोटी देने में नाकाम मोदी सरकार, जमीन क्या खरीदेंगे

चीन के नाम से थरथराती है मोदी सरकार और जेएंडके में संसाधनों की लूट: महबूबा मुफ्ती

Modi govt trembles in name of China, loot of resources in JK: Mufti

नई दिल्ली। जम्मू कश्मीर में देश का कोई भी शख्स प्रोपर्टी खरीद सकता है। भारत सरकार की ओर से नया कानून बना दिया गया है। जिसके विरोध में पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती ने मोदी सरकार को आड़े हाथों लिया है। मुफ्ती ने कहा कि मोदी सरकार चीन के सामने थरथराती है और जम्मू और कश्मीर में लूट मचाने का कानून पास कर दिया है। इससे पहले पीडीपी कार्यकर्ताओं ने इस कानून के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया तो पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार करके जेल में डाल दिया। मुफ्ती ने आरोप लगाया कि उन्हें भी अपने कार्यकर्ताओं से मिलने नहीं दिया गया।

ये लोग J&K के संसाधन लूट के ले जाना चाहते हैं। बीजेपी ने गरीब को दो वक्त की रोटी नहीं दी, वो J&K में ज़मीन क्या खरीदेगा? दिल्ली से रोज एक फ़रमान जारी होता है, अगर आपके पास इतनी ताकत है तो चीन को निकालो जिसने लद्दाख की ज़मीन खाई है, चीन का नाम लेने से थरथराते हैं: महबूबा मुफ्ती https://t.co/4s2GNZm06D

— ANI_HindiNews (@AHindinews) October 29, 2020

महबूबा मुफ्ती की ओर से बयान दिया गया है ये मोदी सरकार जम्मू और कश्मीर के के संसाधन लूट के ले जाना चाहते हैं। बीजेपी ने गरीब को दो वक्त की रोटी नहीं दी, वो जेएंडके में जमीन क्या खरीदेगा? दिल्ली से रोज एक फरमान जारी होता है, अगर आपके पास इतनी ताकत है तो चीन को निकालो, जिसने लद्दाख की जमीन खाई है, चीन का नाम लेने से थरथराते हैं।

उन्होंने कहा कि जम्मू और कश्मीर की जमीन को लूटने का जो कानून बीजेपी ने पास किया है उसके खिलाफ आज जम्मू और कश्मीर में पीडीपी के लोग प्रदर्शन करने जा रहे थे, उनको गिरफ़्तार किया, रात को घर से उठाया गया। मैंने थाने में उनसे मिलने की कोशिश की तो मुझे रोक दिया गया, जम्मू और कश्मीर को एक जेल में तब्दील किया गया है।

Jammu and Kashmir
Jammu-Kashmir police
Jammu-Kashmir Police latest news
PDP
pdp leader mehbooba mufti
Modi government

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button