राजनीति

गुजरात उपचुनाव में बिहार विधानसभा जैसा ‘रईस’ करोड़पति कैंडिडेट एक भी नहीं

  • गुजरात उपचुनाव ( Gujarat bypolls ) में खड़े कुल 80 में से 25 फीसदी प्रत्याशी हैं करोड़पति।
  • बिहार पहले चरण का रईस प्रत्याशी, गुजरात के टॉप तीन से भी दोगुना अमीर।
  • एडीआर की रिपोर्ट में चुनाव में खड़े प्रत्याशियों की संपत्ति का ब्यौरा दिया गया।

गुजरात उपचुनाव में बिहार विधानसभा जैसा 'रईस' करोड़पति कैंडिडेट एक भी नहीं

Gujarat Bypolls: 25 percent candidates are Crorepati but not rich like Bihar Election

नई दिल्ली। गुजरात में होने वाले उपचुनाव ( Gujarat bypolls ) में खड़े प्रत्याशियों की रईसी की तुलना अगर बिहार विधानसभा के पहले चरण के अमीर प्रत्याशियों से की जाए, तो नतीजे चौंकाने वाले हैं। गुजरात उपचुनाव में बिहार जैसा कोई भी अमीर प्रत्याशी नजर नहीं आ रहा है। एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स (एडीआर) की रिपोर्ट के मुताबिक जहां गुजरात उपचुनाव के सबसे अमीर प्रत्याशी की कुल संपत्ति 14 करोड़ रुपये है, वहीं बिहार विधानसभा के पहले चरण में सबसे अमीर प्रत्याशी के पास इससे काफी ज्यादा तो देनदारी है और कुल संपत्ति 68 करोड़ से ज्यादा है।

गरीब राज्य बिहार में चुनाव लड़ने वाले प्रत्याशियों में करोड़पतियों की नहीं है कोई कमी, ये रहे सबसे अमीर उम्मीदवार

एडीआर की रिपोर्ट में गुजरात के आगामी उपचुनावों के कुल 80 में से 20 प्रत्याशी यानी 25 फीसदी करोड़पति बताए गए हैं। प्रति उम्मीदवार के लिहाज से देखें तो इनकी औसत संपत्ति 1.16 करोड़ रुपये निकलती है। यहां की प्रमुख पार्टियों में शामिल कांग्रेस के आठ उम्मीदवारों के पास प्रति प्रत्याशी औसतन संपत्ति करीब 4.38 करोड़ रुपये है। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के आठ उम्मीदवारों के पास औसतन 2.52 करोड़, भारतीय आदिवासी पार्टी के दो उम्मीदवारों के पास औसतन 17.85 लाख और 53 निर्दलीय प्रत्याशियों के पास औसत संपत्ति 70.52 लाख रुपये है।

बिहार विधानसभा चुनाव के पहले चरण में इतने सारे उम्मीदवारों पर हैं क्रिमिनल केस, लालू की पार्टी को टक्कर देती भाजपा

गुजरात के उपचुनाव लड़ने वाले सबसे अधिक अमीर प्रत्याशी अमरेली जिले के धारी से निर्दलीय उम्मीदवार थुमर पीयूष कुमार बाबू भाई हैं। बाबू भाई ने चुनाव आयोग को दिए गए हलफनामे में अपनी कुल संपत्ति 14 करोड़ रुपये घोषित की है। इसके बाद कांग्रेस पार्टी के मोरबी के जयंतीलाल जिराजभाई पटेल के पास 10 करोड़ रुपये की घोषित संपत्ति है। जबकि उपचुनाव के तीसरे सबसे रईस और कांग्रेस प्रत्याशी मोहनभाई शंकरभाई सोलंकी के पास आठ करोड़ रुपये की संपत्ति है।

बिहार चुनाव में इन उम्मीदवारों के पास तो ‘फूटी कौड़ी’ भी नहीं है, पहले चरण के सबसे गरीब उम्मीदवार

उधर, अगर बिहार विधानसभा चुनाव के पहले चरण को लेकर जारी एडीआर रिपोर्ट की मानें तो पटना के मोकामा विधानसभा सीट से राष्ट्रीय जनता दल के अनंत कुमार सिंह इस बार सबसे अमीर प्रत्याशी हैं। अनंत सिंह के पास 18 करोड़ की चल और 50 करोड़ से ज्यादा की अचल संपत्ति है। उनकी कुल संपत्ति 68.50 करोड़ रुपये से अधिक है। यानी गुजरात उपचुनाव के टॉप तीन रईसों की कुल संपत्ति से भी ज्यादा।

Bihar Election
Bihar Assembly election 2020
Gujarat bypolls
Richest candidates
Association for Democratic Reforms
richest candidate

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button