भोपाल

किसानों का समर्थन: कल राजभवन का घेराव करेगी कांग्रेस, कमलनाथ ने पूर्व मंत्रियों को सौंपी जिम्मेदारी

दिग्विजय सिंह समेत कई नेताओं ने राजभवन के घेराव में लोगों से शामिल होने की अपील की है।

किसानों का समर्थन: कल राजभवन का घेराव करेगी कांग्रेस, कमलनाथ ने पूर्व मंत्रियों को सौंपी जिम्मेदारी

किसानों का समर्थन: कल राजभवन का घेराव करेगी कांग्रेस, कमलनाथ ने पूर्व मंत्रियों को सौंपी जिम्मेदारी

भोपाल. किसानों के समर्थन में उतरी कांग्रेस अब मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में राजभवन का घेराव करने जा रही है। शनिवार 23 जनवरी को कांग्रेस राजभवन का घेराव करेगी। इसके लिए कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने पार्टी के कई सीनियर और पूर्व मंत्रियों को जिम्मेदारी सौंपी है। सूत्रों के अनुसार, भोपाल के आसपास के जिलों रायसेन, सीहोर, विदिशा से लोगों को लाने और ले जाने की व्यवस्था पार्टी के सीनियर नेता और पूर्व मंत्री करेंगे।

सोशल मीडिया में भी सक्रिय

वहीं, दूसरी तरफ सोशल मीडिया में भी कांग्रेस के प्रदर्शन को लेकर लगातार अपडेट किया जा रहा है। पूर्व सीएम कमलनाथ ने 23 जनवरी का पूरा कार्यक्रम शेयर किया है वहीं, दिग्विजय सिंह समेत कई नेताओं ने राजभवन के घेराव में लोगों से शामिल होने की अपील की है।

मोदी सरकार के तीन काले कृषि क़ानूनों के विरोध में भोपाल राजभवन का घेराव कार्यक्रम-

– दिनांक 23 जनवरी 2021

– समय सुबह 11:30 बजे

– जवाहर चौक भोपाल में एकत्रित होंगे

– जवाहर चौक से राजभवन कूच करेंगे

बड़ी संख्या में एकत्रित होकर किसानों का साथ दें।

— Office Of Kamal Nath (@OfficeOfKNath) January 21, 2021

पूर्व मुख्यमंत्री एवं पीसीसी चीफ कमलनाथ ने ट्विटर एकाउंट पर विस्तृत कार्यक्रम बताते हुए लिखा कि मोदी सरकार के तीन काले कृषि कानूनों के विरोध में 23 जनवरी को सुबह 11:30 बजे जवाहर चौक पर इकट्ठा होंगे और वहीं से राजभवन कूच करेंगे। पूर्व मुख्यमंत्री एवं पीसीसी चीफ कमलनाथ ने अधिक से अधिक संख्या में राजभवन घेराव मे शामिल होने की अपील कांग्रेस नेताओं से की है।

कांग्रेस सूत्रों की माने तो पूर्व मुख्यमंत्री एवं पीसीसी चीफ कमलनाथ ने भोपाल के नजदीकी जिले सीहोर, रायसेन, राजगढ़, विदिशा आदि से भीड़ जुटाने के निर्देश जिला अध्यक्षों और पूर्व मंत्रियों को दिये हैं। इन लोगों पर ये जिम्मेदारी भी रहेगी कि लोगों को जहाँ से लाया गया है उन्हें वापस वहाँ छोड़ना भी होगा।

भाजपा का हमला

वहीं, दूसरी तरफ भाजपा ने कांग्रेस के इस प्रदर्शन पर हमला बोला है। मध्यप्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा- कांग्रेस को किसानों की याद तब आती है जब वो विपक्ष में रहती है। सत्ता में आते ही किसान भूल जाते हैं। उन्होंने कहा- हैरानी की बात है कि प्रदेश में किसानों को धोखा देने वाले उन्हें समर्थन की बात करते हैं। कांग्रेस को किसानों की याद विपक्ष में ही आती है। सत्ता में आने पर भूल जाते हैं। किसान इनकी असलियत जान गया है। वो अब कांग्रेस के झांसे में नहीं आने वाला।

Digvijaya Singh
farmers
Farmers protest
Kamal Nath
madhya pradesh
Minister Narottam Mishra

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button