मध्य प्रदेश

उपचुनाव में BJP की हार के बाद दमोह कलेक्टर और एसपी का तबादला, 5 घंटे में बदला आदेश

दमोह उपचुनाव में बीजेपी 17 हजार वोटों से हारी थी.

दमोह उपचुनाव में बीजेपी 17 हजार वोटों से हारी थी.

दमोह कलेक्टर-Sp के तबादले पर सियासत इसलिए भी हो रही है क्योंकि हाल ही में 2 मई को दमोह विधानसभा उपचुनाव के नतीजे सामने आए थे. इसमें बीजेपी उम्मीदवार राहुल लोधी कांग्रेस उम्मीदवार अजय टंडन के हाथों 17 हजार वोटों से हार गए. उसके बाद से बीजेपी में भी बयानों का दौर जारी है.

भोपाल. दमोह उपचुनाव (Damoh by Election) नतीजों के 5 दिन बाद ही  दमोह कलेक्टर (Collector) और एसपी बदल दिये गए. कलेक्टर तरुण राठी और एसपी हेमंत चौहान का तबादला कर दिया गया. खास बात ये रही कि  5 घण्टे के अंतराल में दो बार कलेक्टर बदले गए.  सरकार ने चंद घंटों में ही अपना आदेश बदल दिया. उसके कुछ देर बाद एसपी का भी तबादला कर दिया गया. अब तरुण राठी की जगह एस कृष्ण चैतन्य कलेक्टर और हेमंत चौहान की जगह डी आर तेनिवार नये एसपी होंगे.

शुक्रवार को राज्य सरकार ने 5 आईएएस अधिकारियों के तबादला आदेश जारी किए. इनमें दमोह के मौजूदा कलेक्टर तरुण राठी का भी नाम शामिल था. राठी को दमोह कलेक्टर के पद से हटाकर मंत्रालय में उप सचिव बनाया गया. उनकी जगह अनूप कुमार सिंह को दमोह का नया कलेक्टर बनाया गया था. लेकिन राज्य सरकार ने इस आदेश में कुछ घण्टो के भीतर ही संशोधन करते हुए अनूप कुमार सिंह का दमोह कलेक्टर के पद पर तबादला आदेश रद्द कर दिया. उनकी जगह अब एस कृष्ण चैतन्य को दमोह का नया कलेक्टर बनाया गया है.

सियासी वार पलटवार

दमोह कलेक्टर का तबादला आदेश जारी होने के तुरंत बाद ही इस पर सियासत भी शुरू हो गयी. कांग्रेस ने दमोह कलेक्टर के तबादले पर सवाल उठाते हुए इसे राजनीति से प्रेरित बताया है. कांग्रेस प्रवक्ता नरेंद्र सलूजा ने अपने बयान में कहा भाजपा में दमोह उपचुनाव में बीजेपी की करारी हार के बाद से ही बयानों की बाढ़ आ गयी थी. कौन जयचंद, कौन षड्यंत्रकारी, ढूँढा जा रहा है. और इन सब के बीच आज कलेक्टर दमोह पर गाज गिरा दी गयी ? अबकी बार प्रशासन के भरोसे भाजपा सरकार ? वहीं कांग्रेस के इन आरोपों पर जवाब देते हुए बीजेपी ने अधिकारियों के तबादलों को प्रशासनिक प्रक्रिया का हिस्सा बताया है. बीजेपी ने कहा- 5 आईएएस अधिकारियों के तबादले में कांग्रेस को सिर्फ दमोह कलेक्टर ही नज़र आ रहे हैं.

दमोह और सियात

दमोह कलेक्टर-Sp के तबादले पर सियासत इसलिए भी हो रही है क्योंकि हाल ही में 2 मई को दमोह विधानसभा उपचुनाव के नतीजे सामने आए थे. इसमें बीजेपी उम्मीदवार राहुल लोधी कांग्रेस उम्मीदवार अजय टंडन के हाथों 17 हजार वोटों से हार गए. उसके बाद से बीजेपी में भी बयानों का दौर जारी है.

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button