भोपाल

आश्रम पर बवाल : बनेगी गाइडलाइन, पहले स्क्रिप्ट दिखाना होगी फिर मिलेगी मंजूरी

——————

– गृह मंत्री नरोत्तम बोले- आश्रम नाम गलत, दूसरे धर्म के नाम रखकर बताओ

——————

आश्रम पर बवाल : बनेगी गाइडलाइन, पहले स्क्रिप्ट दिखाना होगी फिर मिलेगी मंजूरी


भोपाल। राजधानी में प्रभात झा की वेब सीरिज आश्रम-3 पर बवाल मच गया है। बजरंग दल के विरोध के बाद प्रदेश के गृह मंत्री डा. नरोत्तम मिश्रा ने इस पर सख्त रूख अपनाया है। अब तय किया गया है कि फिल्म व वेब सीरिज शूटिंग की गाइडलाइन बनेगी, जिसमें किसी भी प्रकार से धार्मिक भावना को आहत करने पर मंजूरी न देने के प्रावधान किए जाएंगे। गृह मंत्री नरोत्तम ने सोमवार को मीडिया से बातचीत में साफ कहा कि धार्मिक भावना को आहत पहुंचाने वाली वेब सीरिज या फिल्म नहीं बनने दी जाएगी। इसमें आश्रम नाम ही क्यों रखा गया। जान-बूझकर हिन्दू धर्म की भावना को आहत करने के प्रयास सफल नहीं होने दिए जाएंगे। अब यह तय करेंगे कि जिला प्रशासन से पहले स्क्रिप्ट दिखाकर अनुमति लो। यदि धार्मिक भावना आहत नहीं होती है, तो ही अनुमति दी जाएगी। हम ऐसे मामले में सुरक्षा भी मुहैया कराएंगे। नरोत्तम ने यह भी कहा कि इस आश्रम सीरिज के मामले में दिखवाएंगे कि कहां क्या गलत है।

——————-

इधर, भूपेंद्र ने भी सख्त रूख दिखाया-

दूसरी ओर नगरीय प्रशासन मंत्री भूपेंद्र सिंह ने भी आश्रम वेब सीरिज पर मचे बवाल में सख्त रूख अपनया है। भूपेंद्र ने सोमवार को मीडिया से बातचीत में कहा कि इस वेब सीरीज को लेकर कुछ भ्रम की स्थिति है। इस विषय को सरकार देखेगी। यदि वेब सीरीज में कुछ विवादित विषय हुआ तो फिर उसे राज्य में प्रतिबंधित किया जाएगा। यदि कल के घटनाक्रम की बजाय मामला पहले सरकार के पास आता, तो निश्चित ही कोई रास्ता निकाला जाता।

——————-

यह है मामला –

रविवार को वेब सीरीज आश्रम-3 की पुरानी जेल में शूटिंग चल रही थी। इस दौरान बजरंग दल के कार्यकर्ता नारेबाजी करते हुए जेल परिसर में घुस गए और हंगामा किया। इस दौरान बजरंग दल कार्यकर्ताओं ने प्रकाश झा के साथ झूमाझटकी की। कार्यकर्ताओं ने वैनिटी वैन, कार, ट्रक में रखा सामान, मशीनरी में भी तोडफ़ोड़ की। इसके बाद पुलिस ने चार आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज किया था। रविवार शाम हुए हंगामे और तोड़-फोड़ के बाद रविवार देर रात चार लोगों को शांति भंग की धारा में गिरफ्तार किया गया था जिन्हें मुचलके पर जमानत मिल गई। वहीं सोमवार को इस मामले में आगे कोई कार्रवार्ई नहीं हुई। हालांकि एहतियात के तौर पर पुरानी जेल के पास पुलिस बल तैनात रखा गया है।

——————–

shivraj singh chauhan

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button