रायपुर
भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह दो दिन के छत्तीसगढ़ प्रवास पर पहुंचे हैं. शुक्रवार को अमित शाह ने सरगुजा के अंबिकापुर स्थित कला केन्द्र मैदान में बूथ स्तर के कार्यकर्ताओं से सीधा संवाद किया. इस दौरान अमित शाह ने अपन अतीत को याद किया. अमित शाह ने कहा कि जब मैं बूथ कार्यकर्ताओं के बीच पहुंचता हूं तो मुझे अपना अतीत याद आता है. मुझे उस वक्त महसूस होता है कि एक बूथ कार्यकर्ता में कितनी ताकत होती है.

अमित शाह ने कहा कि आपमे से कोई भी कार्यकर्ता विधायक, सांसद, मुख्यमंत्री या फिर प्रधानमंत्री बन सकता है. भारतीय जनता पार्टी में ही सिर्फ ऐसी व्यवस्था है. भारतीय जनता पार्टी यह नहीं देखती कि कौन अमीर है और कौन गरीब. यहां कार्यकर्ता अपनी काबीलियत और राजनैतिक कौशल के दम पर प्रधानमंत्री के पद तक पहुंच सकता है.

अमित शाह ने कहा कि साल 1982 के ऐसे ही एक सम्मेलन में मैं आहमदाबाद में दूर कहीं खड़ा था. एक स्कूल में 293 बूथ का अध्यक्ष बनकर कहीं कोने में खड़ा था और आज भारतीय जनता पार्टी की महानता देखिये बूथ पर पंडाल लगाने वाला, बूथ पर पोस्टर लगाने वाला, बूथ पर कमल का पेंटिंग करने वाला कार्यकर्ता दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी का अध्यक्ष बनकर आप लोगों के सामने खड़ा है.

बूथ स्तरीय सम्मेलन मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि इससे ज्यादा जनहितैषी सरकार देश में हो ही नहीं सकती. केन्द्र और राज्य सरकार ने गांव, गरीब और किसान के उत्थान के लिए जो काम किया है, वह किसी से छिपा नहीं है. जनता अब चुनाव में खुद ही अपना जनमत देगी. हम पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के मिशन 65 प्लस का लक्ष्य लेकर यह चुनाव लड़ने जा रहे हैं. हमें भरोसा है कि राज्य में फिर से भाजपा की सरकार बनेगी.

Source : Agency