पश्चिम बंगाल के शांतिनिकेतन से एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। यहां एक 73 वर्षीय बुजुर्ग को एक कंगारू कोर्ट द्वारा 'राक्षस' घोषित कर दिया गया और मंगलवार को उसकी सारी अंगुलियां काट दी गईं। ऐसा इसलिए जिससे वह भविष्य में कोई 'राक्षसी' काम ना कर पाए। पुलिस ने जिन 5 लोगों को गिरफ्तार किया है, उनमें उसका बेटा भी शामिल है।  
 
हालांकि पीड़ित फंदी के पड़ोसियों का आरोप है कि यह शख्स 'राक्षसी' काम और अनुष्ठान करता था, जिससे कई गांववाले बीमार पड़े थे। फंदी को कंगारू कोर्ट ने समन भेजा था, जहां उसे सजा देने का फैसला लिया गया। 

बीरभूम के एसपी कुणाल अग्रवाल ने कहा, 'फंदी के बेटे हरीश ने इसका विरोध किया और गांववालों से अपने पिता की जान बख्शने के लिए कहा, तो कंगारू कोर्ट ने उसकी अंगुलियां काटने का भी आदेश दे दिया। जिसके बाद उसने गांववालों के दबाव में अपने पिता की अंगुलियां काट दीं।' 
 

Source : Agency