कोच्चि
सबरीमाला मंदिर का प्रशासन चलाने वाले त्रावणकोर देवस्वोम बोर्ड (टीडीबी) ने बुधवार को केरल उच्च न्यायालय को बताया कि वह तीर्थयात्रा के आगामी मौसम में मंदिर आने वाली महिला श्रद्धालुओं के लिए सीमित तैयारियां कर सकता है। 
 अदालत के हालिया निर्देश पर सौंपी गई रिपोर्ट में बोर्ड ने कहा कि वह इस मौसम के लिए विस्तृत तैयारियां नहीं कर सकता। उसने कहा कि अगले महीने से शुरू हो रहे मौसम के लिए इस तीर्थाटन केंद्र में महिला श्रद्धालुओं के लिए 500 शौचालयों का निर्माण कराया जाएगा। रिपोर्ट में कहा गया कि सबरीमाला की तराइयों में पम्बा नदी के पास अपने कपड़े बदलने के लिए महिलाओं के लिए केवल सीमित सुविधाओं का इंतजाम किया जा सकता है।
 न्यायमूर्ति पी आर रामचंद्र मेनन और न्यायमूर्ति देवन रामचंद्रन की पीठ ने एक अक्टूबर को बोर्ड को निर्देश दिया था कि सबरीमाला मंदिर में हर उम्र की महिलाओं के प्रवेश की अनुमति दिए जाने के उच्चतम न्यायालय के आदेश के मद्देनजर महिला श्रद्धालुओं के लिए किए जा रहे इंतजामों के बारे में वह अपनी रिपोर्ट सौंपे।       
 

Source : Agency