मां दुर्गा की पूजा-अर्चना का त्योहार नवरात्रि शुरू हो गया है। नवरात्रि की 9 रातें गरबा और डांडिया की धूम मची होती है और बड़ी संख्या में लोग ट्रडिशनल कपड़े पहनकर जमकर नाचते-गाते हैं। इन दिनों आपने ध्यान दिया होगा कि बड़ी संख्या में महिलाएं फिर चाहे वे वर्किंग प्रफेशनल्स हों या फिर होममेकर, नवरात्रि के दौरान 9 दिनों तक खास कलर कोड को फॉलो करती हैं। हम आपको बता दें कि यह कलर कोड हर साल बदलता है और यह इस बात पर निर्भर करता है कि इस साल नवरात्रि किस दिन से शुरू हो रही है। ऐसे में इस साल इन 9 रंगों के साथ आप भी बना सकती हैं अपनी नवरात्रि को और भी खास...

पहला दिन- रॉयल ब्लू
नवरात्रि के पहले दिन जब घट स्थापना होती है उस दिन रॉयल ब्लू कलर की साड़ी या ट्रडिशनल ड्रेस पहन सकती हैं। रॉयल ब्लू कलर शांति, बुद्धिमत्ता और शक्ति का प्रतीक है।

दूसरा दिन- पीला
नवरात्रि के दूसरे दिन पीला रंग पहनें। यह रंग ब्राइटनेस, हैपीनेस और आनंद का प्रतीक है जो पॉजिटिविटी को भी दर्शाता है।

तीसरा दिन- ग्रीन कलर
नवरात्रि के तीसरे दिन ग्रीन या हरा रंग पहनें। हरा रंग नई शुरुआत, प्रगति और खुशहाली और समृद्धि का प्रतीक है।

चौथा दिन- ग्रे कलर
नवरात्रि का चौथा दिन ग्रे कलर के लिए है। ग्रे रंग एक मां की अतिसंवेदनशीलता को दर्शाता है जो अपने बच्चे की सुरक्षा के लिए तूफानी बादल में भी बदल सकती है।

पांचवा दिन- नारंगी रंग
नवरात्रि के पांचवें दिन जिस कलर कोड को फॉलो करना है वह है नारंगी रंग। दरअसल, ऑरेंज कलर नॉलेज और एनर्जी का प्रतीक है।

छठा दिन- सफेद रंग
नवरात्रि के छठे दिन मां कात्यायनी की पूजा होती है और इस दिन सफेद रंग का कलर कोड है। जैसा की सभी जानते हैं सफेद रंग शुद्धता और शांति का प्रतीक है।

सातवां दिन- लाल रंग
लाल रंग ऐक्शन, फायर, तेजस्विता, एनर्जी और संकल्प शक्ति का प्रतीका है लिहाजा नवरात्रि के सातवें दिन लाल रंग पहनें।

आठवां दिन- आसमानी नीला
स्काई ब्लू यानी आसमानी नीला रंग नेचर की खूबसूरती को दर्शाता है। साथ ही यह रंग बुद्धिमत्ता, वफादारी और ईमानदारी का भी प्रतीक है। ऐसे में नवरात्रि के आठवें दिन नीला रंग पहनें।

नौवां दिन- गुलाबी
नवरात्रि के नौवें दिन महानवमी मनायी जाती है और यह नवरात्रि का आखिरी दिन है। इस दिन मस्ती भरा रंग पिंक यानी गुलाबी पहनें। यह कलर उम्मीद और आशावाद का प्रतीक है।

Source : Agency