नई दिल्ली 
पिछले एक साल में इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की ई-फाइलिंग वेबसाइट में कई बदलाव हुए हैं। आपके लिए इन बदलावों को जानना बहुत जरूरी है ताकि इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करते वक्त कोई गलती नहीं हो। तो आइए जानते हैं, उन छह बदलावों के बारे में जो इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की ई-फाइलिंग वेबसाइट पर आए हैं... 
 

1. लॉग-इन में जन्मतिथि की दरकार नहीं 
पहले ई-फाइलिंग वेबसाइट पर अपना अकाउंट लॉग-इन करते वक्त जन्मतिथि डालनी होती थी, लेकिन अब इसकी कोई जरूरत नहीं रह गई है। 

 
2. ITR संबंधित दस्तावेजों में अब पासवर्ड नहीं 
टैक्स फाइलिंग कंपनी टैक्स2विन.इन के सीईओ अभिषेक सोनी बताते हैं, 'आईटीआर फाइलिंग से जुड़े विभिन्न दस्तावेज, मसलन फॉर्म 26AS, ITR-V आदि भी बदल गए हैं। हमने देखा कि ये दस्तावेज पहले पासवर्ड प्रोटेक्टेड होते थे, लेकिन अब सीधे खुल जाते हैं।' 

3. बदल गया फॉर्म 26AS डाउनलोड करने की तरीका 
TRACES वेबसाइट से फॉर्म 26AS डाउनलोड करने की प्रक्रिया भी बदल गई है। पहले TRACES वेबसाइट पूछती था कि आप 26AS फॉर्म को पीडीएफ, एचटीएमएल या टेक्स्ट फॉर्मेट में से किस वर्जन में देखना चाहते हैं। पीडीएफ वर्जन के इस्तेमाल से फॉर्म आसानी से डाउनलोड हो जाता था, लेकिन इस वर्ष से आपको पीडीएफ फॉर्मेट में डाउनलोड करने के लिए भी पहले इसे एचटीएमएल फॉर्मेट में देखना होगा, फिर 'एक्सपोर्ट एज पीडीएफ' पर क्लिक करना होगा। 


4. वेरिफेकिशन के विकल्प बदले 
पहले ई-फाइलिंग वेबसाइट रिटर्न सबमिट करने से पहले यह नहीं पूछती थी कि आप वेरिफिकेशन का कौन सा ऑप्शन चुनेंगे। सोनी कहते हैं, 'हालांकि, इस वर्ष भी आपसे आईटीआर के वेरिफिकेशन मेथड के बारे में पूछा जाएगा, लेकिन आईटीआर सबमिट करने के बाद आखिरी चरण में आपको इसे बदलने का मौका भी मिलेगा।' मान लीजिए आपने पहले ऑफलाइन मेथड का चयन कर लिया तो भी रिटर्न फाइल करने के बाद के चरण में ई-वेरिफिकेशन का तरीका बदलने का विकल्प मिलेगा।' 


हालांकि, इस बार वेरिफिकेशन का एक तरीका गायब है। पहले आईटीआर वेरिफिकेशन के लिए इनकम टैक्स डिपार्टमेंट कुछ शर्तों के साथ टैक्सपेयर्स को उनकी मेल आईडी और मोबाइल नंबर पर वन-टाइम पासवर्ड भेज देता था, लेकिन अब यह ऑप्शन पोर्टल पर नहीं दिखेगा। पहले यह विकल्प उन करदाताओं को मिलते थे, जिनका ग्रॉस टोटल इनकम 5 लाख रुपये से कम होता था और उनका मोबाइल नंबर उपयुक्त पैन के अलावा किसी दूसरे पैन से रजिस्टर्ड नहीं होता था। 

Source : Agency