बेंगलुरु
कर्नाटक में विधानसभा चुनाव के नतीजे तो आ गए हैं, लेकिन अभी तक सरकार को लेकर स्थिति साफ नहीं हुई है. कांग्रेस-जेडीएस लगातार बहुमत का दावा कर रही है, वहीं बीजेपी कह रही है कि वह सबसे पार्टी है. सभी की नज़रें अब राजभवन पर टिकी हैं.

कांग्रेस और जेडीएस के नेताओं ने राज्यपाल वजुभाई वाला से मुलाकात की. जेडीएस और कांग्रेस ने राज्यपाल को 117 विधायकों के समर्थन का पत्र सौंपा है. इसमें 78 कांग्रेस, 37 जेडीएस, एक बसपा और एक निर्दलीय विधायक के हस्ताक्षर हैं. आपको बता दें कि कर्नाटक में 222 सीटों पर मतदान हुआ था, इस हिसाब से बहुमत के लिए 112 विधायकों का समर्थन ही चाहिए. जबकि बीजेपी के पास सिर्फ 104 विधायक हैं.

बड़े अपडेट्स -

07.57 PM: बीजेपी नेताओं को उम्मीद निर्दलीय विधायक आर शंकर उनके पाले में आ जाएंगे. बीजेपी को गवर्नर के बुलावे का इंतजार.

07.57 PM: बीएस येदियुरप्पा के घर के पास गहमागहमी. बीजेपी विधायकों की आवाजाही बढ़ी.

07.55 PM: कांग्रेस के विधायकों को लेकर पहली बस प्रदेश कांग्रेस कार्यालय से निकली. ईगलटन रिजॉर्ट ले जाया जा रहा है विधायकों को.

07.49 PM: कर्नाटक के राज्यपाल वजुभाई वाला ने संवैधानिक विकल्प और उपाय जानने के लिए पूर्व अटॉर्नी जनरल मुकुल रोहतगी से बात की.

07.40 PM: आज रात बीजेपी को बहुमत साबित करने के लिए बुला सकते हैं राज्‍यपाल वजुभाई वाला: सूत्र

06.30 PM: जेडीएस और कांग्रेस ने राज्यपाल को 117 विधायकों के समर्थन का पत्र सौंपा है. इसमें 78 कांग्रेस, 37 जेडीएस, एक बसपा और एक निर्दलीय विधायक के हस्ताक्षर हैं.

06.00 PM: कुमारस्वामी ने दावा किया है कि उन्होंने 117 विधायकों के समर्थन की चिट्ठी राज्यपाल को सौंपी है.

05.45 PM: कुमार स्वामी बोले कि राज्यपाल ने उन्हें भरोसा दिया है कि वह संविधान के मुताबिक ही फैसला लेंगे.

05.40 PM: कांग्रेस विधायकों का कहना है कि उन्हें अपना सामान साथ में लेकर आने को कहा था, अब वह सीधा रिजॉर्ट जाएंगे. गौरतलब है कि कांग्रेस ने अपने विधायकों के लिए इग्लटन रिजॉर्ट बुक करवाया है. कांग्रेस ने रिजॉर्ट में 120 कमरे बुक करवाए हैं.

05.39 PM: कांग्रेस और जेडीएस के नेताओं ने सभी विधायकों को समर्थन पत्र राज्यपाल को सौंपा.

05.36 PM: कुमारस्वामी और जी. परमेश्वर राज्यपाल से मिलकर वापस लौटे.

05.32 PM: निर्दलीय विधायक आर. शंकर भी राजभवन पहुंचे, आज सुबह वो बी. एस. येदियुरप्पा के साथ थे.

05.29 AM: कुमारस्वामी, रेवन्ना के अलावा 3 लोग राजभवन में दाखिल हुए.

05.19 PM: कांग्रेस-जेडीएस के सिर्फ 10 विधायकों को राजभवन में जाने की इजाजत मिलेगी.
05.01 PM: सूत्रों की मानें तो समर्थन पत्र पर कांग्रेस के कुल 78 में से तीन विधायकों के हस्ताक्षर नहीं हैं.

Source : Agency