मैड्रिड
अर्जेंटीना के स्टार खिलाड़ी और बार्सिलोना में नेमार के साथी खिलाड़ी रहे लियोनल मैसी ने कहा है कि यदि ब्राजीली फुटबाॅलर पेरिस सेंट जर्मेन छोड़कर रियाल मैड्रिड में शामिल हो जाते हैं तो यह बार्सिलोना के लिए नुकसानदेह साबित होगा। बार्सिलोना में नेमार के साथ दो चैंपियंस लीग और दो ला लीगा खिताब जीत चुके मैसी ने कहा कि उन्होंने भी ब्राजीली खिलाड़ी से इस बारे में बात की है। 

मैसी ने नेमार के पेरिस सेंट जर्मेन छोडऩे को लेकर कहा, ''नेमार यदि ऐसा करते हैं तो यह अच्छी खबर नहीं होगी क्योंकि वह बार्सिलोना के लिए बने थे। यदि वह उसे छोड़कर रियाल मैड्रिड में शामिल हो जाते हैं तो बार्सिलोना के लिए यह बहुत घातक स्थिति होगी।'' मैसी ने हंसते हुए कहा, ''यदि नेमार रियाल मैड्रिड का हिस्सा बन जाते हैं तो यह टीम और भी मजबूत हो जाएगी और बार्सिलोना के लिए यह कतई अच्छा नहीं होगा। वैसे मैंने नेमार को खुद भी यह बात कह दी है।'' ब्राजीली खिलाड़ी नेमार ने गत वर्ष अगस्त में बार्सिलोना छोड़ दी थी और वह फ्रांस की पीएसजी टीम में शामिल हो गए थे जिसने विश्व रिकार्ड करार करते हुए नेमार को खरीदा था। हाल ही में मीडिया में आ रही खबरों के अनुसार नेमार पेरिस छोड़कर रियाल मैड्रिड टीम का हिस्सा बन सकते हैं।

पीएसजी चेयरमैन ने इसी सप्ताह नेमार के क्लब छोडऩे की खबरों का खंडन करते हुए उनके पीएसजी के साथ बने रहने को लेकर बयान दिया है। उन्होंने कहा, ''नेमार 2000 फीसदी अगले सत्र में भी पेरिस में रहेंगे।'' वहीं ब्राजीली खिलाड़ी ने इन अटकलों पर कोई बयान नहीं दिया है, वह फिलहाल पैर की चोट से उबर रहे हैं और अगले महीने रूस में होने वाले फीफा विश्वकप के लिए ब्राजीली टीम का हिस्सा होंगे। पांच बार के विश्व प्लेयर ऑफ द ईयर मैसी ने कहा कि वह रूस में होने वाले विश्वकप को लेकर बहुत ही उत्साहित हैं और उनका प्राथमिक लक्ष्य अर्जेंटीना के लिए सेमीफाइनल में जगह बनाना है। 

ब्राजील में पिछले विश्वकप में उपविजेता रही अर्जेंटीना ने वर्ष 1993 में कोपा अमेरिका के बाद से कोई मेजर अंतरराष्ट्रीय खिताब नहीं जीता है। टीम वर्ष 2015 और 2016 में भी कोपा अमेरिका के फाइनल में पहुंची थी लेकिन दोनो बार हार गयी। मैसी ने मेजर टूर्नामेंटों के फाइनल में अर्जेंटीना के हारने को लेकर कहा, ''हम पिछले काफी समय से यह भार कंधों पर उठाए हुए हैं। हमें इससे उबरना होगा।'' अर्जेंटीना अपने विश्वकप की शुरूआत 16 जून को आइसलैंड के खिलाफ करेगी और फिर नाइजीरिया और क्रोएशिया के खिलाफ खेलेगी।

Source : Agency