लाहौर
 पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के खिलाफ राजद्रोह का मामला दर्ज करने की मांग को लेकर स्थानीय अदालत में याचिका दायर की गई है। ‘गैर-सरकारी तत्वों’ को सीमा पार कर मुंबई में हमला करने की इजाजत देने की पाकिस्तान की नीति पर सवाल उठाने के बाद पीएमएल-एन नेता के खिलाफ यह मांग की गई है।

पाकिस्तान अवामी तहरीक के खुर्रम नवाज की ओर से अधिवक्ता आफताब विर्क ने लाहौर उच्च न्यायालय में याचिका दायर कर आरोप लगाया है कि शरीफ का बयान राष्ट्रीय सुरक्षा और सरकारी संस्थाओं के विरूद्ध है।

शरीफ ने बीते शनिवार को एक साक्षात्कार में स्वीकार किया था कि पाकिस्तान में आतंकी संगठन सक्रिय हैं। उन्होंने ‘गैर-सरकारी’ तत्वों को सीमा पार कर मुंबई में लोगों की हत्या की पाकिस्तान की नीति पर सवाल उठाया था।

‘द एक्सप्रेस ट्रिब्यून’ की खबर के मुताबिक याचिका में अदालत से शरीफ के खिलाफ कार्यवाही शुरू करने का भी आग्रह किया गया है। इस मामले में शरीफ (68) के अलावा संघीय गृह मंत्री अहसन इकबाल को भी प्रतिवादी बनाया गया है। शरीफ के बयान को लेकर पाकिस्तान में विवाद पैदा हो गया है।

Source : Agency