एटा
 उत्तर प्रदेश के एटा में शादी समारोह में शामिल होने परिजनों के साथ आई एक 8 साल की बालिका की बलात्कार के बाद हत्या कर देने से लोगों में आक्रोश व्याप्त है। जिलाधिकारी ने बालिका के परिजनों को 10 लाख रूपए की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की है।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अखिलेश कुमार चौरसिया ने बताया कि सोमवार रात शादी समारोह में अपने परिवार के साथ 8 साल की बालिका शामिल होने आई थी। रात करीब डेढ़ बजे शादी की रश्म चल रही थी और घर में तेज म्यूजिक और शहनाई बज रही थी। सभी लोग शादी के रस्म में व्यस्त थे। उसी समय सोनू नामक युवक मौका पाकर बच्ची को उठाकर गली में ले गया और वहां एक निर्माणाधीन मकान के एक कमरे में ले जाकर उसके साथ बलात्कार किया और फिर वही उसकी गला दबाकर हत्या कर दी।

शहनाई और तेज म्यूजिक की आवाज में बच्ची की चीखें दबकर राह गई और किसी को भी सुनाई नहीं दी। उन्होंने बताया कि काफी देर तक जब बच्ची परिजनों को दिखाई नहीं दी तो उसकी तलाश की और पुलिस को सूचना दी। काफी ढूंढने के बाद बच्ची का लहूलुहान शव बगल के निर्माणाधीन मकान में मिला। घटना की खबर मिलते ही परिजन पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और आरोपी सोनू को गिरफ्तार किया।

शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। इस घटना के बाद लोगों में आक्रोश है। जिला अधिकारी अमित किशोर ने बताया कि राज्य सरकार की ओर से महिला सम्मान कोष से 10 लाख रुपए की आर्थिक सहायता मृतका के परिजनों को दी जा रही हैं।  मृतका के परिजनों और सैकड़ो की संख्या में लोगों ने एटा फर्रुखाबाद रोड जाम किया कर दिया है। आरोपी को खुद दंड देने के लिए लड़की के पिता ने की आरोपी को सुपुर्द करने की मांग की है।

Source : Agency