बालों का झड़ना, रूखा होना या फिर उनका पतला होना कोई आम बात नहीं है। ये सभी चीजें वक्‍त के साथ साथ और भी ज्‍यादा बढ गई हैं। पहले के जमाने में जब महिलाओं का अच्‍छा खान-पान होता था और खुद की देखभाल करने का समय होता था, तब उनके बाल खुद ब खुद अच्‍छे हो जाया करते थे।

मगर आज ज्‍यादातर महिलाएं नौकरियां करती हैं, जिसके चलते उनके बालों का हाल बेहाल हो गया है। वैसे आयुर्वेद में हर चीज का उपचार है। अगर आपके बाल काफी रूखे, पतले और झड रहे हैं तो हमारे बताए हुए आयुर्वेदिक उपचार करना ना भूलें।

भृंगराज
यह बालों का झड़ना रोकने और बालों को घना बनाने में भी यह बेहद उपयोगी होता है। इसके इसी गुण के कारण हर हेयरकेयर उत्‍पाद में जरुर इस्‍तेमाल किया जाता है। इस तेल का प्रभाव आपको काफी जल्‍दी देखने को मिल सकता है।

सामग्री-

    5-6 सूखा भृंगराज पाव

लगाने का तरीका

इन पत्‍तियों को थोड़े से पानी के साथ मिक्‍स करें और पेस्‍ट बनाएं। फिर इस पेस्‍ट को सिर पर लगा कर 20 मिनट तक रखें। फिर आप इसे शैंपू से धो लें। इसके पेस्‍ट में तुलसी या आमला भी मिक्‍स किया जा सकता है।

आंवला
आंवला रक्त के प्रवाह को बढ़ाता है, रूसी (डैंड्रफ) को दूर करता है तथा सिर की त्वचा के रोम छिद्रों को खोलता है जिससे सिर की त्वचा से प्राकृतिक तेलों का उत्पादन होता है।

सामग्री-

    6 चम्‍मच आंवला पावडर
    पानी

लगाने का तरीका

1 कटोरे में दोंनो चीजों को मिक्‍स कर लें और पेस्‍ट बना ले। फिर बालों को दो हिस्‍सो में बांटे और पेस्‍ट को सिर और बालों में लगाएं। फिर इसे 30 मिनट तक लगा कर छोड़ दें और फिर शैंपू से धो लें। आप इसे हफ्ते में दो बार लगाएं।

शिकाकाई
शिकाकाई बालों को स्वस्थ रखने के लिए बहुत फायदेमंद होता है। इसमें विटामिन ए, सी, के और एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं, जो बालों को पोषण देने के साथ उनका विकास भी करते हैं। आप चाहें तो अपने नारियलतेल में शिकाकाई भी मिक्‍स कर सकती हैं।

सामग्री-

    6 चम्‍मच सूखा शिकाकाई पावडर
    2 कप पानी

बनाने का तरीका

एक जग में इन दोनों को भिगो कर रख दें, जिससे यह बाद में शैंपू की तरह यूज़ हो सके। बाद में पानी से सिर को गीला कर के शिकाकाई शैंपू से सिर को धुलें। ऐसा पांच मिनट तक करें। आप इस विधि को हर दूसरे दिन प्रयोग कर सकते हैं।

ब्राह्मी
यदि आपको बालों से सम्बंधित कोई समस्या है जैसे बाल झड़ रहे हों तो परेशान न हों बस ब्राह्मी को लगाएं।

सामग्री-

    2 चम्‍मच सूखा ब्राह्मी पावडर
    2 चम्‍मच सूखा आंवला पावडर
    2 चम्‍मच अश्‍वगंधा पावडर
    ½ कप दही

बनाने का तरीका

सभी सामग्रियो को मिक्‍स करें और एक स्‍मूथ पेस्‍ट बनाएं। फिर बालों को दो हिस्‍से में बांटें और उस पर जड़ से इस पेस्‍ट को लगाएं। एक बार जब बाल पूरी तर से कवर हो जाएं तब 1 घंटे के लिये इसे यूं ही छोड़ दें। बाद में सिर को गुनगुने पानी से धो लें।

नीम
नीम का रेगुलर यूज़ आपके सिर में ब्‍लड सर्कुलेशन बढाएगा और बालों की जड़ों को मजबूत करेगा। यह रूसी से भी छुटकारा दिलाता है।

सामग्री

    मुठ्ठीभर नीम की पत्‍तियां
    2 कप पानी

बनाने की विधि

नीम की पत्‍तियों को 15 मिनट के लिये पानी में उबाल लें और फिर ठंडा करने के लिये रख दें। जब पानी ठंडा हो जाए तब इसे छान लें। बालों को शैंपू करने के बाद इस पानी से बालों को दुबारा गीला कर लें। इसके बाद बालों को किसी भी तरह से ना धोएं। इस चीज को हफ्ते में तीन बार प्रयोग कर सकते हैं।

मेथी
मेथी हर घर में इस्‍तेमाल की जाती है। आप इससे बालों को सुदंर बना सकती हैं और उनका झड़ना रोक सकती हैं। अगर सिर में रूसी है तो भी मेथी काफी अच्‍छी होती है।

सामग्री-

    2 चम्‍मच मेथी
    2 चम्‍मच हरी दाल
    1 चम्‍मच नींबू का रस
    मुठ्ठीभर कडी पत्‍ती

बनाने की विधि -

इन सभी चीजों को मिक्‍स कर के पेस्‍ट बना लें। फिर इसे शैंपू की तरह यूज करें। यह एक प्रभावी घरेलू उपचार है। आप इस विधि को हफ्ते में दो बार यूज कर सकती हैं, जिससे अच्‍छा रिजल्‍ट मिले।

 

Source : Agency