दुनिया भर में कुछ झरने बहुत ही खास हैं। कुछ झरने बहुत ऊंचाई से गिरने वाले हैं तो कुछ बेहद विशाल इलाके में एक साथ गिरते हैं। इन झरनों को देखने के लिए दूर-दूर से पर्यटक आते हैं। ये झरने देखने में जितने सुंदर हैं उतने ही ये खतरनाक भी हैं। यहां बहुत ही सावधानी बरती जाती हैं। अगर इन झरनों को दूर से देखकर इनकी सुंदरता का आनंद लें तो ज्यादा बेहतर होगा। चलिए आपको बताते हैं इन खतरनाक पांच झरनों के बारे में.....

विक्टोरिया फॉल्स :-
विक्टोरिया फॉल्स में 1,700 मीटर चौड़ी चट्टान से जाबेसी नदी का पानी 108 मीटर नीचे खाड़ी में गिरता है। यहां जाने वाले भीगे बिना नहीं लौट सकते क्योंकि झरने से उड़ती पानी की बूंदें दूर तक जाती हैं। यह झरना भी दो देशों जाबिया तथा जिबाब्वे से देखा जा सकता है।

एंजल फॉल्स :-
1933 में पायलट जेस एंजल ने वेनेजुएला के जंगलों के ऊपर से उड़ान भरते हुए इस झरने की खोज की और उनके नाम पर ही इसका नाम रखा गया। यह विश्व का सबसे ऊंचा झरना है। यह कई हिस्सों में नीचे गिरता है जिनमें से सबसे लंबा हिस्सा 807 मीटर का है। इस झरने को देखने के लिए कनाइमा राष्ट्रीय उद्यान जाना पड़ता है। वहां से नौकाएं पर्यटकों को झरने तक ले जाती हैं।

नियाग्रा फॉल्स :-
यह धरती के सर्वाधिक लोकप्रिय झरनों में से एक है। इस झरने में पानी 52 मीटर की ऊंचाई से गिरता है जो बेशक ज्यादा ऊंचाई नहीं है। इसकी खासियत वह विशाल इलाका है जिस पर से यह झरना गिरता है। इसे देखने के लिए एक विशेष सुरंग भी बनी है, साथ ही नौका में बैठ कर ऊपर से गिरते इस विशाल झरने को देखने का रोमांच भी कुछ अलग है।

Source : Agency