नई दिल्ली 
सपा छोड़कर बीजेपी का दामन थामने वाले बुक्कल नवाब आज विधान परिषद के लिए नामांकन भरेंगे. वे नामांकन करने से पहले लखनऊ के हजरतगंज के दक्षिण मुखी हनुमान मंदिर जाएंगे. बुक्कल नवाब मंदिर में भगवान का दर्शन और पूजा अर्चना करेंगे. इसके बाद साढ़े 11 बजे अपना नामांकन पत्र दाखिल करेंगे.

बीजेपी ने दिया रिटर्न गिफ्ट

बता दें कि पिछले साल मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ ही प्रदेश के दोनों डिप्टी सीएम डॉ. दिनेश शर्मा और केशव प्रसाद मौर्य के साथ दो राज्य मंत्रियों की खातिर अपनी विधान परिषद सदस्यता छोड़ने वाले नेताओं को बीजेपी ने रिटर्न गिफ्ट दिया है. उन्हें एमएलसी का टिकट पार्टी ने दिया है.

बुक्कल नवाब ने सबसे पहले दिया था इस्तीफा

बुक्कल नवाब ने पिछले साल सपा और एमएलसी सदस्यता से इस्तीफा देने की शुरुआत की थी. उनके बाद फिर सपा के चार और बसपा के एक विधान परिषद सदस्य ने इस्तीफा देकर बीजेपी का दामन थामा था. बीजेपी ने उन्हें एमएलसी का टिकट देकर रिटर्न गिफ्ट दिया है. बुक्कल नवाब सपा के पूर्व अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव के करीबी रहे हैं. यही वजह रही कि सपा ने उन्हें दो बार एमएलसी बनाया था. पिछले साल सूबे में योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में बीजेपी सरकार के बनने के बाद उन्होंने एमएलसी और पार्टी दोनों से इस्तीफा दे दिया था. इसके बाद बीजेपी का दामन थाम लिया था.

'अयोध्या में राम मंदिर के लिए 15 करोड़'

सपा में रहते हुए बुक्कल नवाब ने कहा था कि अयोध्या में भगवान राम का मंदिर हर हाल में बनना चाहिए. भगवान राम अयोध्या में पैदा हुए थे, ऐसे में उनका मंदिर अयोध्या में ही बनना चाहिए. वे राम मंदिर के लिए 15 करोड़ रुपये देंगे. इससे पहले उन्होंने कहा था कि भगवान राम का मंदिर बनने के बाद वह उनको मुकुट पहनाएंगे. साथ ही 10 लाख रुपये भी देंगे.

नवाब के खिलाफ कई मामलों की जांच

गौरतलब है कि बुक्कल नवाब के खिलाफ कई मामलों में जांच चल रही हैं. लखनऊ के जियामऊ में गलत तरीके से मुआवजा लेने का मामला है. जबकि इससे पहले हुसैनाबाद हेरिटेज जोन में बिल्डिंग गलत तरीके से बनाने के मामले में भी बुक्कल नवाब को एलडीए नोटिस दे चुका है. एलडीए ने बिल्डिंग गिराने का नोटिस दे चुका है.

10 सीटों पर बीजेपी के MLC उम्मीदवार

उत्तर प्रदेश विधान परिषद चुनाव की 13 सीटों के लिए बीजेपी ने 10 उम्मीदवार उतारे हैं. इनमें महेंद्र सिंह, मोहसिन रजा, सरोजिनी अग्रवाल, बुक्कल नबाब, यशवंत सिंह, जयवीर सिंह, विद्यासागर सोनकर, विजय बहादुर पाठक, अशोक कटारिया और अशोक धवन हैं. इसके अलावा एक सीट बीजेपी ने अपने सहयोगी अपना दल को दी है. इसके अलावा एक सपा और एक बसपा ने उम्मीदवार उतारे हैं.

Source : Agency