ग्वालियर
ग्वालियर में आयोजित बीजेपी के किसान सम्मेलन से किसान जिस तरह नदारद रहे, उसे देख लगता है कि पार्टी से किसानों का मोह भंग हो गया है. सम्मेलन में कर्मचारियों की बेहद कम उपस्तिथि रही तो मामूली तादाद में सम्मेलन में किसान पहुंचे. हॉल की आधी से ज्यादा कुर्सियां खाली पड़ी रही.

ग्वालियर में आज जिला स्तरीय किसान सम्मेलन किया गया. मुख्यमंत्री कृषक समृद्धि एवं मुख्यमंत्री ऋण समाधान योजना के तहत इसका आयोजन किया गया। ग्वालियर व्यापार मेला के फैसिलिटेशन सेंटर में किसान सम्मेलन का शुभारंभ केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने किया. किसानों के लिए आयोजित सम्मेलन में कुर्सियां खाली पड़ी रहीं. जो कुर्सियों भरी थी उन पर भी भाजपा कार्यकर्ता और कर्मचारी बैठे नजर आए.

स्थिति यह रही कि कार्यक्रम शुरु होने से लेकर केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर के उद्बोधन के वक्त कुर्सियां खाली पड़ी रहीं. केंद्रीय मंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार ने किसानों के लिए कृषक समाधान योजना वरदान साबित होगी. किसान अपने ऋण के मूलधन का 50 फीसदी जमा करके समाधान योजना का लाभ ले पाएंगे. सम्मेलन से पूर्व केंद्रीय मंत्री ने किसानों की तादाद कम होने पर कहा कि सम्मेलन 12 बजे से होना है, तब तक किसान आ जाएंगे, लेकिन वह खुद सवा 12 बजे तक सम्मेलन में रहे और कुर्सियां खाली थीं.

Source : Agency