जोहान्‍सबर्ग
पाकिस्‍तानी सेना की बर्बरता का एक औऱ मामला सामने आया है। मुत्‍ताहिदा कौमी मूवमेंट (MQM) ने देश के आर्मी चीफ, जनरल कमर जावेद बाजवा पर पश्‍तून समुदाय के सदस्‍यों को जानवरों की तरह कत्‍ल करने का आरोप लगाया है।पाकिस्‍तान के पेशावर में विशाल विरोध प्रदर्शन रैली के बाद पार्टी के संस्‍थापक अल्‍ताफ हुसैन का यह बयान आया है जिसमें पश्‍तून समुदाय की ओर से मांग रखी गयी कि अवैध तौर पर गिरफ्तार उनके समुदाय के सदस्‍यों को रिहा किया जाए।

दक्षिण अफ्रीका के जोहान्‍सबर्ग में पार्टी के 34वें स्‍थापना दिवस पर हुसैन ने पाकिस्‍तान में सैन्‍य शासन लागू करने को लेकर सैन्‍य व्‍यवस्‍था पर हमला करते हुए कहा कि उनकी पार्टी के खिलाफ भी कार्रवाई शुरू की गई है। उन्‍होंने कहा कि एमक्‍यूएम पाकिस्‍तान में वास्‍तविक लोकतंत्र चाहता है ताकि पाकिस्‍तान से  सैन्‍य शासन हटाया जा सके।

स्‍वनिर्वासित हुसैन ने कराची में एमक्‍यूएम के हजारों कार्यकर्ताओं की गुमशुदगी के लिए भी पाकिस्‍तान पर आरोप लगाया। उन्‍होंने कहा, 58 को अवैध तरीके से फांसी की सजा हुई वहीं बिना किसी जुर्म के 10 हजार से अधिक कार्यकर्ताओं को जेल में डाल दिया गया और इसके अपराधी पाकिस्‍तान की सेना है।

Source : Agency