लखनऊ
उत्तर प्रदेश के लखनऊ में सोमवार पुलिस आरक्षी भर्ती अभ्यर्थियों ने जमकर हंगामा किया। उन्होंने इस दौरान पुलिस भर्ती बोर्ड पर कोर्ट के आदेशों की अवहेलना किए जाने का आरोप लगाया। उन्होंने पुलिस आरक्षी भर्ती- 2013 में व्याप्त अनियमितताओं को दूर कर सही परिणाम घोषित करने की मांग की। इस दौरान अभ्यर्थियों ने पुलिस भर्ती बोर्ड के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

जानिए पूरा मामला 
अभ्यर्थियों ने बताया कि ये 2013 की पुलिस आरक्षी भर्ती का मामला है। इसमें क्षैतिज आरक्षण को गलत तरीके से लागू किया गया था। इसे हमने कोर्ट में चैलेंज किया था।मामले में अदालत ने सात महीने पहले ही आदेश दिया। ये रिजल्ट को रिवाइज करके 10 अप्रैल को वेबसाइट पर दे भी चुके हैं, लेकिन इसके बाद 13 तारीख को बोर्ड की तरफ से रिजल्ट हटा लिया जाता है और मनमाने ढंग से कोर्ट के आदेश के खिलाफ सेलेक्शन की मांग करते हैं। बोर्ड के इसी मनमाने रवैये के खिलाफ हमारा प्रदर्शन जारी है।

अभ्यर्थियों ने दी चेतावनी 
अभ्यर्थियों ने बताया कि बोर्ड की तरफ से उनसे लीगल प्रूफ मांगा जा रहा है, वह उन्होंने दिया भी है। जिस पर वह मान भी रहे हैं कि हमने गलती की है। उन्होंने कहा कि बोर्ड सुधारने की बात कह कर मामले को टाल रहा है। अभ्यर्थियों ने चेतावनी दी कि जो सुधार है, वह आज ही हो।

पुलिस ने हल्के बल का किया प्रयोग 
वहीं विरोध प्रदर्शन के चलते मौके पर पहुंचे अधिकारियों के आश्वासन पर इन अभ्यर्थियों ने शाम तक का अल्टीमेटम दिया है। अ​भ्यर्थियों ने कहा कि बोर्ड ने अपनी गलती मान ली है, बोर्ड आज शाम तक ही अपनी गलती सुधारे।  इसके बाद भी सैकड़ों की संख्या में अभ्यर्थियो द्वारा भर्ती बोर्ड के दफ्तर पर ही टिके रहने के कारण अंत में पुलिस ने हल्का बल प्रयोग कर इन सभी अभ्यर्थियों को खदेड़ दिया। 

Source : Agency