हैदराबाद 
तेलंगाना के जगितिआल जिले के मेटपल्‍ली कस्‍बे में एक महिला सफाई कर्मचारी मडेला लक्ष्‍मी ने कूडे़दान में 1 लाख रुपये पाने के बाद उसे उसके मालिक को लौटा दिया। सफाई कर्मचारी की इस ईमानदारी की चारों तरफ प्रशंसा हो रही है। घटना जिले के मेटपल्‍ली कस्‍बे की है। मडेला स्‍थानीय सब्‍जी मार्केट में सफाई कर्मचारी का काम करती हैं।

मडेला मंगलवार की रात बाजार में कचरा साफ कर रही थीं। उन्‍हें एक डस्‍टबिन में कवर दिखा। उसमें एक लाख रुपये थे। उन्‍होंने इसे अपने पास रख लिया और घर चली गईं। वह सुबह पैसे के साथ वापस आईं। उन्‍होंने देखा कि एक शख्स काफी परेशान होकर डस्‍टबिन को खंगाल रहा है। उन्‍होंने उससे पूछा कि वह क्‍या तलाश कर रहा है। 

परेशान शख्स ने बताया कि उसका नाम जावेद है और उसकी एक चिकन शॉप है। पिछली रात उन्‍होंने एक लाख रुपये खो दिए। जावेद ने बताया कि दुकान बंद करते समय उन्होंने एक लिफाफे के अंदर एक लाख रुपये रखे थे। उनके पास एक और लिफाफा था जिसमें रद्दी सामान रखा था। घर जाते समय एक लिफाफा उन्होंने कूड़े के डिब्‍बे में फेंक दिया। 

जावेद ने बताया कि सुबह जब उन्होंने लिफाफा खोला, तो पता चला कि जल्‍दबाजी में उन्होंने पैसे वाला लिफाफा डस्‍टबिन में फेंक दिया। इसके बाद वह तत्‍काल बाजार आए ताकि पैसे को तलाश किया जा सके। जब लक्ष्‍मी ने जावेद की कहानी सुनी तो उन्होंने पूरा पैसा लौटा दिया। रकम गिनने के बाद जावेद ने बेहद खुशी जाहिर करते हुए लक्ष्मी के साथ तस्वीर खिंचवाई। जावेद ने मडेला की ईमानदारी देखकर उन्‍हें 5 हजार रुपये का इनाम भी दिया। मडेला की ईमानदारी की हर तरफ प्रशंसा हो रही है।

Source : Agency