बरेली 

उत्तर प्रदेश के बरेली जिले में एक दामाद ने अपने ससुर की बेरहमी से हत्या कर दी. आरोपी पत्नी को मायके से विदा नहीं किए जाने से बेहद नाराज था. जिसके चलते उसने अपने ससुर को चाकू से ताबड़तोड़ वार करके मौत के घाट उतार दिया. इसके बाद आरोपी खुद थाने पहुंचा और आत्मसमर्पण कर दिया.

हत्या की यह सनसनीखेज वारदात बरेली के हुसैनबाग इलाके की है. जहां रहने वाले 65 वर्षीय मुहम्मद रईस मियां ने दिसम्बर 2010 में अपनी बेटी सीमा का निकाह फहीम नामक शख्स के साथ किया था. फहीम बाकरगंज रेती मोहल्ला का रहने वाला है. अब उन दोनों का एक बेटा भी है. लेकिन आए दिन पति पत्नी की बीच झगड़ा रहने लगा.

पुलिस के मुताबिक शादी के कुछ वक्त बाद से सीमा और फहीम के बीच झगड़ा होने लगा था. इसी विवाद के चलते सीमा ने साल 2013 में अपने पति फहीम के खिलाफ दहेज उत्पीड़न का मुकदमा दर्ज कराया था. हालांकि इसके बाद उन दोनों के बीच सुलह हो गई थी, लेकिन मुकदमा चलता रहा.

इसी बीच करीब दस महीने पहले सीमा अपने मायके चली आई. फहीम का कहना है कि पिछले दस महीने में वह कई बार अपनी पत्नी को लेने अपनी ससुराल गया, लेकिन उसके ससुर रईस मियां ने सीमा को भेजने से साफ मना कर दिया. जानकारी के मुताबिक सीमा भी वापस उसके घर नहीं जाना चाहती थी.

फहीम का आरोप है कि उसे उसके बेटे से भी नहीं मिलने नहीं दिया गया. जब उसने तलाक की बात कही तो रईस ने सीमा के लिये मकान खरीदकर देने की शर्त रखी, जिसे पूरा करना फहीम के लिए मुमकिन नहीं था. फहीम का कहना है कि सोमवार की रात भी वह सीमा को लेने गया था.

तभी फहीम को घर के पास उसके ससुर रईस मिल गए. फहीम ने उनसे फिर सीमा को उनके साथ भेजने की गुहार लगाई. लेकिन उसके ससुर रईस ने सीमा को उसके साथ भेजने से साफ इनकार कर दिया. इस बात से फहीम आपे से बाहर हो गया और उसने अपने ससुर को वहीं चाकू से गोद डाला. जिससे मौके पर ही उनकी मौत हो गई.

हत्या की वारदात को अंजाम देने के बाद फहीम खुद थाने पहुंचा और वहां जाकर आत्मसमर्पण कर दिया. पुलिस ने उसे फौरन गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस ने इस संबंध में मुकदमा दर्ज कर लिया है.

Source : Agency