चंडीगढ़
भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की रैली को लेकर सरकार को कई मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। सरकार ने जहां कल जाट नेता अमित शाह से सभी मांगों पर सहमति देते हुए समझौता किया था। वहीं बाइक संख्या को लेकर हाईकोर्ट ने केंद्र, हरियाणा सरकार अौर हरियाणा चुनाव आयोग को नोटिस जारी किया है। जिसको लेकर हरियाणा सरकार को 14 फरवरी तक होईकोर्ट में मामले को लेकर जवाब दाखिल करने के आदेश दिए हैं। रैली में भारी संख्या में बाइक ले जाने को लेकर अराइव सेफ सोसाइटी की तरफ से याचिका दायर की गई है। 

उल्लेखनीय है कि 14 फरवरी को जींद में अमित शाह आ रहे हैं। उस दिन उनके नेतृत्व में बाइक रैली निकाली जाएगी। जिसमें लाखों संख्या में लोग बाइक लेकर हिस्सा लेंगे। वहीं बाइक की संख्या को लेकर अराइव सेफ सोसाइटी की तरफ से पंजाब एडं हरियाणा हाईकोर्ड में याचिका दायर की गई है। जिसको लेकर हाईकोर्ट ने केंद्र, हरियाणा सरकार अौर हरियाणा चुनाव आयोग को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है। 

वहीं, शाह की रैली को लेकर राष्ट्रीय नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (NGT) ने भी याचिका दायर की है। यह याचिका भी शाह की रैली में बाइक की संख्या को कम करने के लिए दी गई है। अमित शाह की रैली प्रदूषण के लिए खतरा हो सकती है इसलिए इसमें करीब 1 लाख बाइक ही शामिल हो सकती है। एनजीटी ने इस मामले को लेकर केंद्र और हरियाणा सरकार को नोटिस जारी किया है। जिसके तहत हरियाणा सरकार से 13 फरवरी तक जवाब में हलफनामा देने को कहा गया है। यह याचिका विक्टर ढीसा नाम के वकील ने समीर सोढ़ी के द्वारा दाखिल की है।
 
 

Source : Agency