रेडियो जॉकी न सिर्फ सबका मनोरंजन करता है बल्कि वह दुनिया की तमाम जानकारियां भी मुहैया कराता है। आज रेडियो जॉकी का कार्यक्षेत्र काफी विस्तृत हो गया है। वह जहां पूरे प्रोग्राम की तैयारी करता है, वहीं अपनी आवाज से लेकर वाकपटुता का लोहा भी मनवाता है। एफएम चैनलों के आने पर जिस तरह से इसमें करियर की संभावनाएं बढ़ी हैं, उसके चलते युवाओं को यह फील्ड काफी भा रहा है। रेडियो का आविष्कार, सूचना क्रांति का द्योतक माना जाता था लेकिन एफएम रेडियो की शुरुआत को सूचना क्रांति के नए आयाम के रूप में देखा जाता रहा है। इसके चलते रेडियो जॉकी का कान्सेप्ट भी सामने आया। यह व्यवसाय म्यूजिक में रुचि रखने वालों के लिए एक अच्छा ऑप्शन है। यह ऐसा प्रोफेशन है जिसमें व्यक्ति की पहचान उसकी वॉयस यानी आवाज से की जाती है।

क्या हैं योग्यताएं
अब समय के साथ-साथ हर क्षेत्र में प्रतिस्पर्धा बढ़ रही है।अत: यह क्षेत्र भी प्रतियोगियों से भरा पड़ा है। अत: यह फील्ड भी अब प्रोफेशनल डिग्री धारकों को ज्यादा तवज्जो देने लगा है। वैसे तो देश भर में विभिन्न शिक्षण संस्थानों से जनसंचार की पढ़ाई करने के बाद इस क्षेत्र में नौकरी की तलाश कर सकते हैं। इसके अलावा, देश भर में कुछ संस्थानों में रेडियो जॉकी का डिप्लोमा और सर्टिफिकेट कोर्स भी कराया जाता है। स्नातक स्तर पर प्रवेश लेने के लिए बारहवीं पास होना जरूरी है।

व्यक्तिगत गुर
रेडियो जॉकी में अच्छे कम्युनिकेशन का कौशल होना चाहिए। आवाज भी तेज और मधुर होनी चाहिए। रेडियो जॉकी बनने की इच्छा रखने वालों को एफएमपर प्रसारित प्रोगाम को ध्यान से सुनना चाहिए। साथ ही, इस बात पर ध्यान देना चाहिए कि वह फोन कॉल्स कैसे अटेंड करते हैं, किस तरह से श्रोताओं से बात करते हैं जैसे मामलों पर ध्यान देना चाहिए। साथ ही, इस तरह की प्रैक्टिस स्वयं घर पर भी करते रहना चाहिए।

क्या है काम
रेडियो जॉकी वह व्यक्तिहोता है जो रेडियो पर प्रसारित होने वाले म्यूजिकल प्रोग्राम की एंकरिंग करता है। रेडियो जॉकी में ऐसी कला का होना जरूरी है जिससे वे म्यूजिकल प्रोग्राम के सहारे अपने हुनर से श्रोताओं का मनोरंजन कर सकें। इसके लिए वे श्रोताओं की जरूरतों को ध्यान में रखकर ट्रैफिक की उस दिन की स्थिति, उस दिन के मौसम आदि चीजों की जानकारी देते हुए प्रोगाम को आगे बढ़ाने की कोशिश करते हैं। यह ऐसा प्रोफेशन है जिसमें मेहनत और हुनर की जरूरत होती है। उसमें यंगस्टर को ज्यादा तवज्जो दी जाती है क्योंकि उनके अंदर नई जोश, नई सोच और नये उत्साह की भरमार होती है। प्रत्येक रेडियो जॉकी का अपना कम्युनिकेशन स्टाइल होता है जिससे उसे पहचान मिलती है। यह क्षेत्र अधिकाधिक मेट्रो शहरों में तेजी से विकास कर रहा है जिसके चलते यहां नौकरी का ऑप्शन भी लगातार खुलने लगा है

Source : Agency