जैतो 
 केन्द्रीय कपड़ा मंत्रालय के उपक्रम भारतीय कपास निगम लि. (सी.सी.आई.) अनुसार देश में 10 जनवरी तक लगभग 128.38 लाख गांठ व्हाइट गोल्ड की मंडियों में पहुंची हैं जबकि बीते साल 6 जनवरी, 2017 तक लगभग 103.14 लाख गांठ व्हाइट गोल्ड की आई थीं। सी.सी.आई. सूत्रों के अनुसार देश में अब तक आई कुल 128.38 लाख गांठों में पंजाब की 5,26,800 गांठ, हरियाणा 13,37,000 गांठ, राजस्थान 10,34,300 गांठ, गुजरात 2,18,300 गांठ, महाराष्ट्र 32,94,000 गांंठ, मध्य प्रदेश 9,89,000 गांठ, आंध्र प्रदेश 6,87,000 गांठ, तेलंगाना 21,82,307 गांठ, कर्नाटक 5,13,000 गांठ व ओडिशा 91,662 गांठ शामिल हैं।  

गैर सरकारी कारोबारी संस्था कॉटन एसोसिएशन आफ इंडिया के अनुसार देश में 31 दिसम्बर, 2017 तक 145 लाख गांठ व्हाइट गोल्ड की पहुंची हैं। कॉटन एसोसिएशन आफ इंडिया ने देश में चालू कपास सत्र के दौरान 377 करोड़ गांठ पैदावार होने का अनुमान जताया है। रूई में भयंकर तेजी से हलचल:  रूई में गत 3 दिनों के भीतर करीब 250 रुपए मन का तेजी का झटका आया जिसनेे रूई बिकवाल व रूई खरीदार (कताई मिलों) में बड़ी हलचल मचा दी। भारतीय रूई व्यापार जगत में रूई के भाव 250 रुपए मन बढऩे को बड़ी तेजी माना जाता है। यह तेजी चालू कपास सत्र 2017-18 की अब तक भी सबसे बड़ी तेजी दर्ज हुई है।

Source : Agency