नई दिल्ली 
टीम इंडिया ने अंडर-19 वर्ल्ड कप-2018 के अपने ओपनिंग मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया को 100 रनों से हराकर जोरदार शुरुआत की है। राहुल द्रविड़ की कोचिंग वाली भारतीय टीम ने पहले बैटिंग करते हुए निर्धारित 50 ओवरों में 7 विकेट पर 328 रन बनाए। जवाब में ऑस्ट्रेलियाई टीम 42.5 ओवरों में सभी विकेट खोकर सिर्फ 228 रन ही बना सकी। उसकी ओर से ओपनर जैक एडवर्ड्स ने सबसे अधिक 73 रनों की पारी खेली। भारत के लिए कमलेश नागरकोटी और शिवम मावी ने 3-3 विकेट झटके, जबकि अभिषेक शर्मा और अंकुल रॉय के खाते में 1-1 विकेट गया। 

मुश्किल लक्ष्य का पीछा करने उतरी कंगारू टीम की शुरुआत धीमी रही। ओपनर जैक एडवर्ड्स और मैक्स ब्रायंट ने पहले विकेट के लिए 14.2 ओवर में 57 रन की पार्टनशिप की। कमलेश नागरकोटी ने मैक्स को शिवम मावी के हाथों कैच कराकर इस जोड़ी को तोड़ा। वह 48 गेंदों में 2 चौके और 2 छक्के की मदद से 29 रन बनाकर आउट हुए। अभिषेक शर्मा ने जसेन संघा (14) को आउट कर ऑस्ट्रेलियाई टीम को दूसरा झटका दिया। अब स्कोर 2 विकेट पर 86 रन हो गए थे। 


कमाल नहीं कर सके ऑस्टिन वॉ 
इसके बाद जैक और जोनाथन मेर्लो ने स्कोर को आगे बढ़ाया। शिवम मावी ने जोनाथन को 38 रन के निजी स्कोर पर आउट किया। नए बल्लेबाज परम उप्पल 4 रन बनाकर रन आउट हुए तो पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीव वॉ के बेटे ऑस्टिन वॉ सिर्फ 6 रन बनाकर कमलेश नागरकोटी की गेंद पर विकेट के पीछे आर्यन जुयल के हाथों लपके गए। स्टीव वॉ बेटे को चीयन करने के लिए स्टेडियम पहुंचे हुए थे। 

अंकुल ने किया एडवर्ड्स को बोल्ड 
166 रनों के स्कोर पर टॉप-5 बल्लेबाज आउट हो चुके थे। अोपनर जैक एडवर्ड्स को 73 रनों के निजी स्कोर अंकुल रॉय ने बोल्ड कर दिया। कमलेश नागरकोटी ने अपने खाते का तीसरा विकेट विल सदरलैंड (10) के रूप में लिया तो शिवम मावी ने जेवियर बार्टलेट को सिर्फ 7 रन के निजी स्कोर पर आउट कर ऑस्ट्रेलियाई रही सही उम्मीद को भी धुंधला कर दिया। शिवम का यह दूसरा विकेट रहा। 

भारतीय पारी का रोमांच: 3 बल्लेबाजों ने लगाई फिफ्टी 
इससे पहले टीम इंडिया ने ऑस्ट्रेलिया को जीत के लिए 329 रनों का मुश्किल टारगेट दिया है। टॉस जीतकर पहले बैटिंग करने उतरी भारतीय टीम ने कप्तान पृथ्वी शॉ (94), मंजोत कालरा (86) और शुभम गिल (63) के अर्धशतकों की बदौलत निर्धारित 50 ओवरों में 7 विकेट के नुकसान पर 328 रन बनाए। ऑस्ट्रेलिया के लिए जैक एड्वर्ड ने सबसे अधिक 9 ओवर में 65 रन देकर 4 विकेट झटके। 

सेंचुरी से चूके कैप्टन पृथ्वी शॉ 
भारतीय टीम को पहला झटका कप्तान पृथ्वी शॉ (94) के रूप में लगा। उन्हें विल सदरलैंड की गेंद पर बक्सटर ने कैच किया। अंडर-19 वर्ल्ड में अपना पहला मुकाबला खेल रहे पृथ्वी शॉ ने 100 गेंदों में 8 चौके और 2 छक्के लगाए। उनके और मंजोत के बीच पहले विकेट के लिए रेकॉर्ड 180 रन की पार्टनरशिप हुई। इस जोड़ी ने रॉबिन उथप्पा और शिखर धवन के 175 रनों के रेकॉर्ड को पीछे छोड़ा। 

मंजोत ने खेली 86 रन की पारी 
इसके कुछ ही देर बाद मंजोत कालरा भी चलते बने। उन्होंने 99 बॉल में 12 चौके और 1 छक्का की बदौलत 86 रन बनाए। पृथ्वी की जगह बैटिंग करने आए शुभम गिल ने भी अर्धशतकीय पारी खेली। उन्होंने 54 गेंदों में 6 चौके और 1 छक्का लगाते हुए 63 रन बनाए। हालांकि अभिषेक शर्मा (23), हिमांशु राणा (14) और अंकुल सुधाकर रॉय (6) का विकेट जल्दी गिर गया। 

उल्लेखनीय है कि टीम इंडिया पूर्व भारतीय कप्तान राहुल द्रविड़ की कोचिंग में उतरी है। उम्मीद की जा रही है कि यह टीम चैंपियन बनकर लौटेगी। इससे पहले 33 बार भारत और ऑस्ट्रेलिया अंडर-19 में भिड़ चुके हैं। इस दौरान 19 बार ऑस्ट्रेलिया को जीत मिली है, जबकि 14 मुकाबलों में भारत ने बाजी मारी है। 

Source : Agency