मुजफ्फरपुर

बिहार के मुजफ्फरपुर में शनिवार सुबह जहरीली चाय पीने से दो बच्चे सहित चार लोगों की मौत हो गई. पुलिस के अनुसार सभी मृतक एक ही परिवार के सदस्य थे. घटना में एक बच्चे की हालत अभी भी गंभीर बनी हुई है, जिसे पुलिस ने पास के अस्पताल में भर्ती कराया है. घटना पारू थाना इलाके के बहदनीपुर गांव की है.

पुलिस के अनुसार मौत की वजह थाइमेट नाम के कीटनाशक के इस्तेमाल की वजह से हुई है. पारू उपमंडलीय पुलिस अधिकारी (एसडीपीओ) शंकर झा ने बताया कि मृतकों की पहचान चंदन भगत (27), उसकी पत्नी रेखा देवी (25) और उनके दो छोटे बच्चे बेटे संजीत कुमार (सात) और बेटी चांदनी कुमारी (पांच) के रूप में की गई है.

एसडीपीओ ने बताया कि प्रारंभिक जांच से ऐसा प्रतीत होता है कि परिवार ने चाय पी, जिसमें उन्होंने गलती से चाय के बजाय कीटनाशक डाल दी. उन्होंने बताया कि सही जांच के लिए पुलिस की टीम फारेंसिक साक्ष्य एकत्र कर रही है. उन्होंने बताया कि परिवार खेती से अपना पेट पाल रहा था. बता दें कि खेती में प्रयोग करने के लिए थाइमेट एक जहरीली दवा होती है जो बिल्कुल चायपत्ती की तरह ही दिखती है. शवों को पोस्टमार्टम के लिए श्रीकृष्ण मेडिकल कॉलेज और अस्पताल ले जाया गया है. पुलिस जांच में जुटी हुई है.

आपको बता दें कि शुक्रवार को ही बिहार के छपरा में जहरीली चाय पीने से एक ही परिवार के दो महिला और एक बच्चे की मौत हो गई थी. वहीं हादसे में दो गंभीर रुप बीमार हो गए थे. गंभीर हालत को देखते हुए बीमार लोगों पटना रेफर कर दिया गया था.

मृतक महिला के पति योगेंद्र राय ने बताया था कि ठंड ज्यादा होने से घर में चाय बनाने को कहा गया था और घर के सभी लोगों ने चाय पी थी. चाय पीते ही सभी लोगों की तबियत बिगड़ने लगी. उसके बाद आसपास के लोग किसी तरह सबको अस्पताल लेकर आए, तब तक दो महिलाओं और एक बच्चे ने दम तोड़ दिया.

Source : Agency