वॉशिंगटन 
अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप के यौन व्यवहार को लेकर अमेरिका के एक प्रमुख अखबार 'द वॉल स्ट्रीट जर्नल' ने दावा किया है कि 2016 में राष्ट्रपति पद का चुनाव लड़ने के दौरान डॉनल्ड ट्रंप ने अपने निजी वकील के जरिए एक पॉर्न ऐक्ट्रेस को हर महीने 1,30,000 डॉलर (82 लाख रुपये से ज्यादा) दिए थे, ताकि वह उनके साथ कथित यौन संबंधों पर चुप्पी साधे रहे। वहीं, वाइट हाउस ने इस खबर का खंडन करते हुए इस पर टिप्पणी करने से इनकार किया है।
 

अमेरिकी अखबार की रिपोर्ट के मुताबिक, ट्रंप वर्ष 2006 में पॉर्न ऐक्ट्रेस स्टेफनी क्लिफर्ड से एक गोल्फ मैच के दौरान मिले थे। इसके बाद दोनों कथित तौर पर रिलेशनशिप में रहे। उल्लेखनीय है कि ट्रंप और मेलानिया की शादी इससे एक साल पहले हो चुकी थी। रिपोर्ट के मुताबिक, क्लिफर्ड 2016 में एबीसी न्यूज चैनल से ट्रंप के साथ संबंधों को लेकर बात करने के लिए राजी हो गई थीं, लेकिन चुनावों से ठीक पहले ट्रंप और क्लिफर्ड के बीच समझौता हो गया ताकि वह इस बात को सार्वजनिक न करें। दावा किया जा रहा है कि ट्रंप के वकील माइकल कोहेन क्लिफर्ड के वकील कीथ डेविडसन के माध्यम से मामले को दबाने में सफल रहे थे। 

ट्रंप के निजी वकील कोहेन ने इसे 'बेतुका आरोप' बताया है। कोहेन ने अमेरिकी अखबार से कहा, 'यह दूसरी बार है, जब आप मेरे मुवक्किल के खिलाफ बेतुके आरोप लगा रहे हैं। आप एक साल से यह झूठी कहानी गाते रहे हैं, जबकि कम से कम वर्ष 2011 के बाद सभी पक्ष इस कहानी को लगातार खारिज करते रहे हैं।' राष्ट्रपति के खिलाफ ताजा आरोपों के बारे में पूछे जाने पर वाइट हाउस के एक अधिकारी ने कहा, 'ये पुरानी और फिर से उछाली गई खबरें हैं, जो चुनाव से पहले प्रकाशित हुईं और इन्हें पूरी तरह खारिज कर दिया गया।' बहरहाल, अधिकारी ने अखबार की खबर पर टिप्पणी करने से इनकार कर दिया। वहीं, न्यू यॉर्क डेली न्यूज के मुताबिक, क्लिफर्ड ने एक ईमेल भेजकर ट्रंप के साथ यौन संबंध होने से इनकार किया है। 

Source : Agency