नई दिल्ली 
मेड का काम करने वाली झारखंड की नाबालिग लड़की पर दिल्ली में जुल्म करने का मामला सामने आया है। दिल्ली महिला आयोग (DCW) की टीम ने मॉडल टाउन में एक लेडी डॉक्टर के घर से 14 साल की इस लड़की को मुक्त कराया है। पुलिस ने लेडी डॉक्टर को गिरफ्तार कर लिया है।
 

आयोग की 181 हेल्पलाइन पर शुक्रवार को इस बारे में कॉल आई। DCW की अध्यक्ष स्वाति जयहिंद के नेतृत्व में एक टीम लड़की के पास पहुंची। लड़की ने इन्हें बताया कि उसे काम के बदले पैसे नहीं मिलते थे, खाने को दिन में सिर्फ दो बासी रोटियां मिलत थी। इस ठंड में न तो उसके पास स्वेटर था न कंबल। उसने आरोप लगाया कि मुझे गर्म प्रेस से जलाया जाता था। लड़की ने बताया, 'डॉक्टर मुझ पर गर्म पानी फेंकती थीं।' लड़की के शरीर पर घाव भी देखने को मिले। आरोप है कि उसकी आंखों में कैंची भी मारी गई। पुलिस ने जेजे ऐक्ट के तहत केस दर्ज कर डॉक्टर निधि को अरेस्ट कर लिया। वह डेंटिस्ट हैं। स्वाति ने कहा कि लड़की की पूरी मदद की जाएगी। 

मार से लड़की के हाथ काले पड़ गए, उनमें जख्म भी हैं। आंखों में सूजन, चेहरे पर कट के निशान से वह तड़प रही थी। यह 14 साल की बच्ची पिछले चार महीने से रोजाना यातनाएं झेल रही थी। नाबालिग की कहानी से किसी की भी रूह कांप उठे, लेकिन डॉक्टर महिला को जरा भी फर्क नहीं पड़ता था। दिल्ली के मॉडल टाउन इलाके से महिला डॉक्टर की चंगुल से आजाद होने के बाद नाबालिग बच्ची ने अपना दर्द बयां करते हुए बताया, 'मेरी मालकिन मुझे रोज बुरी तरह पीटती थी। मालकिन मुझे गुस्से में काटती भी थी। उन्होंने मुझे कैंची से काटा, आंख पर मारा, मेरी आंखें सूजी हुई है। बहुत दर्द होता है।'

Source : Agency