मेरठ 
गाजियाबाद स्थित एक मंदिर के पुजारी की 15 वर्षीय बेटी को कथित तौर पर अगवा कर उसके साथ गैंगरेप किया गया और फिर उसकी हत्या कर दी गई। लड़की का क्षत-विक्षत शव शुक्रवार को मेरठ के परतापुर इलाके से मिला, जिस पर सिरगेट के टुकड़ों के साथ बर्बरता के निशान मिले हैं। बताया जा रहा है कि यह लड़की करीब दो सप्ताह से लापता थी।
 

लड़की के लापता होने के बाद 27 दिसंबर को उसके पिता ने मोदीनगर स्थित पुलिस स्टेशन में इस बारे में शिकायत दर्ज कराई थी। लड़की के पिता के मुताबिक, शिकायत दर्ज करने के बाद पुलिस ने इस मामले में कोई कार्रवाई नहीं की। उन्होंने बताया, 'कुछ लड़कों ने मेरी बेटी को अगवा कर लिया। मैंने इसकी शिकायत मोदीनगर पुलिस स्टेशन में दर्ज कराई। इसके साथ ही मैंने अगवा करने वालों में से एक लड़के का मोबाइल नंबर भी दिया, लेकिन पुलिस ने उनका पता लगाने का कोई प्रयास नहीं किया।' इसके साथ ही उन्होंने आरोप लगाया कि आरोपियों ने उनकी बेटी के साथ गैंगरेप करने के बाद उसकी हत्या कर दी। 

हमारे सहयोगी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया को लड़की के परिवार ने बताया, 'वह 26 दिसंबर की दोपहर को अपनी मां द्वारा फटकारे जाने के बाद घर से निकली थी। उसकी मां को उसके पास से एक मोबाइल फोन मिला था, जिसे उसके पैरंट्स ने नहीं दिया था। इसी के चलते उसे फटकार लगी।' लड़की की मां ने बताया कि उसके घर से जाने के बाद हमने आसपास के इलाके में उसकी तलाश की, लेकिन वह नहीं मिली। 

इस मामले पर गाजियाबाद पुलिस ने बताया, 'मेरठ पुलिस ने लड़की की बॉडी को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है। इस मामले की जांच के लिए कई टीमों का गठन किया गया है। हम जल्द ही मामले की जांच पूरी कर लेंगे।'

Source : Agency