नई दिल्‍ली
साल का पहला ग्रैंडस्लैम ऑस्ट्रेलियन ओपन टेनिस सोमवार से मेलबर्न में शुरू हो रहा है. एंडी मरे और सेरेना विलियम्स के नाम वापस लेने से टूर्नामेंट की चमक कम ज़रूर हुई है लेकिन रोजर फ़ेडरर, नोवाक जोकोविच, राफेल नडाल और महिला वर्ग में मारिया शारापोवा के होने से फ़ैन्स के बीच दिलचस्पी बनी हुई है. साल के पहले ग्रैंड स्लैम में सबकी नज़र डिफ़ेंडिंग चैंपियन फ़ेडरर पर होंगी. पांच बार ऑस्ट्रेलियन ओपन जीत चुके फ़ेडरर अपने करियर का 20वां ग्रैंड स्लैम जीतने के लिए कोर्ट में उतरेंगे. 36 साल के फ़ेडरर अगर मेलबर्न में जीतते हैं तो सबसे ज़्यादा उम्र में नंबर एक रैंक हासिल करने वाले खिलाड़ी बनेंगे. इस दौरान फ़ेडरर को 16 ग्रैंडस्लैम विजेता राफेल नडाल से कड़ी टक्कर मिलने की उम्मीद है. नडाल पिछले साल दो ग्रैंड स्लैम जीत चुके हैं और यहां दूसरी बार ख़िताब जीतने के लिए उतरेंगे. नडाल भले क्योंग क्लासिक में रिचर्ड गैस्के से 6-4, 7-5 हारे हों लेकिन उन्हें अपने आप पर भरोसा है.

नडाल ने अपनी तैयारियों पर बात करते हुए कहा, 'मैं अपने विरोधी खिलाड़ी के बारे में नहीं सोचता. मैं मैच-दर-मैच के बारे में सोचता हूं और रोज अभ्यास कर रहा हूं. हमेशा की तरह नए सीज़न की शुरुआत में मैच जीतना ज़रूरी होता है ताकि अच्छी शुरूआत मिल सके.' कोहनी की चोट के बाद 6 महीने बाद कोर्ट में वापसी करने वाले पूर्व वर्ल्ड नंबर एक टेनिस खिलाड़ी नोवाक जोकोविच पर भी सबकी नज़र रहेगी. जोकोविच पिछले साल विंबलडन में हारने के बाद से पहली बार किसी ग्रैंड स्लैम टूर्नामेंट में खेलेंगे. 12 ग्रैंड स्लैम विजेता जोकोविच यहां सातवीं बार ऑस्ट्रेलियन ओपन जीतने की कोशिश करेंगे. टूर्नामेंट में जोकोविच 14वें रैंकिंग वाले खिलाड़ी के तौर पर कोर्ट में उतरेंगे. नोकाव जोकोविच ने कहा, 'चोट पूरी तरह से ठीक नहीं हुई है लेकिन हर दिन चोट में सुधार हो रहा है. मुझे उम्मीद है कि टूर्नामेंट शुरू होने के साथ ही मैं सौ फ़ीसदी फ़िट रहूंगा. इससे पहले मैंने अपने करियर में इतना लंबा ब्रेक नहीं लिया. मुझे ख़ुशी है कि मैं वापसी करने में सफल रहा लेकिन ब्रेक के दौरान अपने परिवार के साथ मैं काफ़ी समय बिता सका, इससे मुझे अपने खेल के साथ-साथ अपनी रणनीति पर भी काम करने का समय मिला.'

तीन ग्रैंडस्लैम विजेता और 5 बार ऑस्ट्रेलियन ओपन फ़ाइनल खेल चुके एंडी मरे पीठ में तकलीफ़ की वजह से नहीं खेल रहे हैं. ऐसे में ख़िताब के सबसे बड़े दावेदार नडाल, फ़ेडरर और जोकोविच रहेंगे. महिलाओं में सेरेना विलियम्स के न होने से सिमोना हालेप नंबर एक खिलाड़ी के तौर पर कोर्ट में उतरेंगी. हालेप ने अब तक कोई ग्रैंड स्लैम ख़िताब नहीं जीता है.  हालेप ने कहा, 'नंबर एक खिलाड़ी के तौर पर टूर्नामेंट में जाने से मुझपर कोई दबाव नहीं है. मुझे अच्छा लग रहा है, मैं फ़िट हूं और खेलने के लिए तैयार हूं. ग्रैंड स्लैम का हर मैच मुश्किल होता है, इससे कोई फ़र्क नहीं पड़ता कि मैं नंबर एक हूं या फिर नंबर 2, मुझे टूर्नामेंट के शुरू होने का इंतज़ार है.' वहीं हालेप को पहला ग्रैंड स्लैम जीतने के लिए कैरोलिना वोज़्नियाकी भी रेस में होंगी. इन दोनों खिलाड़ियों को मारिया शारापोवा से टक्कर मिलने की उम्मीद है.

Source : Agency