गुवाहाटी
मौजूदा विजेता एटीके ने अपने स्टार खिलाड़ी जेक्विंहा द्वारा 73वें मिनट में किए गए गोल के दम पर हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के चौथे सीजन में शुक्रवार को इंदिरा गांधी एथलेटिक स्टेडियम में मेजबान टीम नार्थईस्ट युनाइटेड एफसी को 1-0 से हरा दिया. पहला हाफ गोलरहित रहने के बाद दूसरे हाफ में भी गोल होने के आसार नहीं लग रहे थे, लेकिन जेक्विंहा ने मेजबान टीम के डिफेंस द्वारा की गई गलती का फायदा उठाया और अपनी टीम को एक गोल से आगे कर दिया. अंत में यह गोल विजयी गोल साबित हुआ और एटीके विजेता बनी. इस जीत ने एटीके प्लेऑफ में पहुंचने की उम्मीदों को बरकरार रखा है. यह एटीके की नौ मैचों में तीसरी जीत है और इस जीत से मिले तीन अंकों के साथ मौजूदा विजेता 12 अंकों के साथ केरला ब्लास्टर्स को पछाड़ते हुए छठे स्थान पर आ गई है. नार्थईस्ट की टीम नौवें स्थान पर है. यह मेजबान टीम की छठी हार है.

एटीके की टीम शुरू से ही मेजबान टीम पर हावी रही और उसने मौके भी ज्यादा बनाए, लेकिन सफलता उसे दूसरे हाफ में मिली. मैच के आठवें मिनट में ही एटीके को कॉर्नर मिला जिसे जेक्विंहा ने लिया. बॉक्स में खड़े हितेश शर्मा उस गेंद को सही से ले नहीं पाए. उनके पीछे खड़े उनके साथी डिफेंडर कोनोर थॉमस भी कुछ नहीं कर पाए और नार्थईस्ट के डिफेंस ने गेंद को आसानी से क्लीयर करते हुए एटीके के पास से मौका छीन लिया. 12वें मिनट में भी एटीके को दो कॉर्नर मिले लेकिन अपनी खराब पासिंग के कारण वह इन दोनों मौकों को भुना नहीं पाई। 16वें मिनट में एटीके के रोबिन सिंह को गोल करने का मौका नार्थईस्ट के गोलकीपर टीपी रेहनेश की गलती से मिल सकता था, लेकिन आखिरी समय पर रेहनेश ने गलती सुधार ली.

रेहनेश ने रोबिन सिंह को छकाने की कोशिश की और इस प्रयास में वो थोड़ा समय लगा बैठे तब तक रोबिन उनके पास पहुंच गए थे लेकिन अंत समय पर रेहनेश ने गेंद को आगे बढ़ाते हुए अपनी गलती को गोल में नहीं बदलने दिया. 25वें मिनट में जेक्विंहो के पास गोल करने का एक और मौका था. उन्होंने नार्थईस्ट के खिलाड़ी निर्मल छेत्री को छकाया और गोलपोस्ट पर निशाना साधा जो पोस्ट से थोड़ा बाहर चला गया. 45वें मिनट में मैच में पेनाल्टी मिल सकती थी. इस मिनट में छेत्री ने जेक्विंहा को गिराया और कुछ देर बाद सामिंहा ने रोबिन को गिरा दिया था, लेकिन दोनों मौकों पर रेफरी ने पेनाल्टी नहीं दी. अगले ही मिनट नार्थईस्ट युनाइटेड ने गोल करने का बेहतरीन मौका बनाया था, जिसे एटीके के गोलकीपर देबजीत मजूमदार ने अपनी बेहतरीन गोलकीपिंग से टाल दिया.

नार्थईस्ट के मार्सिहो ने गेंद मेइटेई को दी, जिन्होंने गेंद डेनिलो सेजिरियो को दी और उसे नेट में डालना चाहा लेकिन उनके बेहतरीन शॉट के बीच में देबजीत आ गए और नार्थईस्ट के पास से गोल करने का मौका चला गया. दूसरे हाफ की शुरुआत नार्थईस्ट के लिए बुरी रही. 53वें मिनट में निर्मल छेत्री को येलो कार्ड मिला. वहीं, एटीके अपने आक्रामक खेल को जारी रखे हुए थी. 57वें मिनट में जेक्विंहा ने गेंद अपने कब्जे में ली और उसे रोबिन सिंह की तरफ बढ़ा दिया. रोबिन ने हेडर के जरिए गोल करना चाहा जो सही नहीं लगा और सांबिहा ने उनके इस शॉट को क्लीयर कर दिया. लगातार कोशिश कर रही एटीके की मेहनत आखिरीकार रंग लाई और 73वें मिनट में जेक्विंहा ने उसके लिए गोल कर अपनी टीम को 1-0 की बढ़त दिला दी. यह गोल नार्थईस्ट के डिफेंस की गलती से हुआ. जोस गोंजालवेज ने गेंद पर से अपना नियंत्रण खोया और गेंद प्रबीर दास के पास गई जिन्होंने उसे रोबिन के पास ढकेल दिया.

Source : Agency