नई दिल्ली
 एचडीएफसी लिमिटेड के निदेशक मंडल ने कंपनी को 13,000 करोड़ रुपए जुटाने की मंजूरी दे दी है। कंपनी मुख्य रूप से यह राशि बैंकिंग इकाई में अपनी हिस्सेदारी कायम रखने और दबाव वाली संपत्तियों और स्वास्थ्य बीमा जैसे क्षेत्रों में उतरने के लिए जुटा रही है। देश की सबसे बड़ी मॉर्गेज ऋणदाता द्वारा करीब एक दशक में पहली बार इक्विटी जुटाई जा रही है।

एचडीएफसी ने बयान में कहा, ‘‘कंपनी के निदेशक मंडल की आज हुई बैठक में 13,000 करोड़ रुपए तक के इक्विटी शेयर जारी करने की अनुमति दे दी है। कंपनी यह राशि सामूहिक रूप से तरजीही आवंटन तथा पात्र संस्थागत नियोजन के जरिए जुटाएगी। इसके लिए डाक मत के जरिए शेयरधारकों की मंजूरी ली जाएगी।’’ कंपनी बोर्ड ने तरजीही आधार पर दो रुपए अंकित मूल्य के 6.43 करोड़ शेयर 1,726.05 रुपए प्रति शेयर मूल्य पर जारी करने की अनुमति दे दी है। यह कुल 11,103.66 करोड़ रुपये बैठता है। ये शेयर अजीम प्रेमजी ट्रस्ट और अन्य निवेशकों को जारी किए जाएंगे। बोर्ड ने इसके अलावा 1,896 करोड़ रुपए तक जुटाने के लिए दो रुपए अंकित मूल्य के शेयर पात्र संस्थागत नियोजन के आधार पर जारी करने की अनुमति दी है। 

Source : Agency