भोपाल
नगर निगम अधिकारियों द्वारा सांठगांठ कर अधूरे प्रोजेक्ट के कम्प्लीशन सर्टिफिकेट जारी करने के मामले में अब नया मोड आ गया है। ऐसे भवन स्वामियों से नगर निगम अब संपत्ति कर की वसूली करेगा। इसके लिए उन्हें बकायदा नोटिस भी जारी किए जाएंगे। उम्मीद जताई जा रही है कि इन भवनों से करीब पांच करोड रुपए संपत्ति कर मिल जाएगा।

खास बात यह है कि जिन 123 प्रोजेक्ट को कम्प्लीशन सर्टिफिकेट जारी किए, विवाद खडा होने पर उनमें से मात्र 38 की सतही जांच की गई। ज्यादातर निर्माणाधीन ही मिले। बाकी के प्रोजेक्टस की सच्चाई देखने निगम की टीम स्पाट पर गई ही नहीं और अब निगम सीधे संपत्ति कर वसूलने की तैयारी कर रहा है। ऐसा पहली बार होने जा रहा है जब निगम खाली पडे भवनों से संपत्तिकर की वसूली करेगी।

Source : Agency