संयुक्त राष्ट्र
अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के बयान से ‘‘अत्यधिक निराश’’ अफ्रीकी देशों के एक समूह ने आज मांग की है कि ट्रंप अपना बयान वापस लें और माफी मांगे. गौरतलब है कि ट्रंप ने हैती और अफ्रीकी देशों के प्रवासियों की रक्षा करने के कुछ अमेरिकी सांसदों के प्रयासों को लेकर निराशा व्यक्त करते हुए पूछा कि अमेरिका को इन ‘‘मलिन’’ (शिटहोल) देशों के नागरिकों को क्यों स्वीकार करना चाहिए.

ट्रंप की टिप्पणियों पर विचार करने के लिए एक आपात सत्र के बाद संयुक्त राष्ट्र में अफ्रीकी राजदूतों के एक समूह ने कहा कि वे इस महाद्वीप को नीचा दिखाने तथा लोगों की निंदा कर अफ्रीका तथा वहां के लोगों के प्रति अमेरिकी प्रशासन के रवैये से चिंतित हैं. एक बयान में ट्रंप से टिप्पणी वापस लेने और माफी की मांग करते हुए कहा गया है कि समूह बहुत ही निराश है और वह अमेरिका के राष्ट्रपति की घृणित, नस्लवादी और दूसरे देश के लोगों के प्रति नफरत भरी टिप्पणियों की कड़ी निंदा करता है.

साथ ही समूह ने उन अमेरिकी लोगों का भी आभार जताया जिन्होंने इन टिप्पणियों की आलोचना की. ट्रंप ने एक ट्वीट में आज देश और विदेश में पैदा हुए आक्रोश को कम करने के लिए घुमा फिराकर कही गई बात में इसे खारिज किया.

Source : Agency