अनुसंधानकर्ताओं का मानना है कि अगर ऑफिस और वर्कस्पेस में हरियाली यानी पेड़-पौधों की मौजूदगी को बढ़ाया जाए तो कर्मचारियों द्वारा बीमार पड़ने की वजह से ली जाने वाली छुट्टियों को कम किया जा सकता है। ऊंची-ऊंची इमारतों में काम करने वाले लोग इस बात को भली भांति समझते हैं कि इंफेक्शन और बीमारी कितनी आसानी से फैलते हैं। इस समस्या को अक्सर ऑफिस में उचित वेंटिलेशन न होने के साथ जोड़ा जाता है लेकिन इसके साथ एक और कारण जुड़ा हुआ है- ऑफिस फर्निचर में इस्तेमाल होने वाले केमिकल... इनका भी ऑफिस में काम करने वाले कर्मचारियों की सेहत पर बुरा असर पड़ता है।

अनुसंधानकर्ताओं की मानें तो इस जटिल समस्या का सबसे आसान हल है ऑफिस के अंदर हरियाली बढ़ाना यानी पौधे लगाना जिससे वर्कस्पेस के अंदर की हवा भी केमिकल फ्री होकर साफ-सुथरी बनी रहेगी। एडी वैन का कहना है, 'बीमार पड़ने की वजह से ली जाने वाली छुट्टियों और कर्मचारियों में बढ़ता स्ट्रेस.. इन दोनों समस्याओं का सबसे बेहतरीन इलाज है कि ऑफिस को पौधों से भर दिया जाए।'

एक तरफ जहां ऑफिस बैक्टीरिया के पनपने का प्रजनन क्षेत्र बन सकता है जिससे वायरस फैल सकते हैं, वहीं एडी वैन कहते हैं कि पौधों से निकलने वाला बैक्टीरिया हमारे लिए अच्छा होता है। इंडोर प्लांट्स औऱ उनकी मिट्टी से निकलने वाला बैक्टीरिया ऑफिस के लिए लाभदायक है जो ऑफिस के सिंथेटिक वातावरण की इकॉलजी को स्थिर बनाए रखेगा। इस रिसर्च के नतीजों को नासा की एक स्टडी ने भी सपॉर्ट किया है जिसमें पाया गया था कि कुछ ऐसे इंडोर प्लांट्स हैं जिन्हें घर में रखने से लोग कम बीमार पड़ते हैं।

Source : Agency