नयी दिल्ली
भारतीय कुश्ती के आइकन पहलवान सुशील कुमार प्रो रेसलिंग लीग में अपनी टीम के आइकन खिलाड़ी नहीं होने के कारण ब्लॉक हो गए थे जिसकी वजह से दर्शक सुशील का लीग में पदार्पण नहीं देख पाए।  सुशील को प्रो रेसलिंग लीग में दिल्ली सुल्तांस टीम ने 55 लाख रुपये की कीमत पर सबसे महंगा खिलाड़ी बनाया था लेकिन टीम के कप्तान और स्टार होने के बावजूद वह टीम के आइकन खिलाड़ी नहीं है। लीग नियमों के अनुसार आइकन खिलाड़ी को ब्लॉक नहीं किया जाता है। लीग के उद्घाटन मुकाबले में दिल्ली सुल्तांस और मुंबई महारथी का मंगलवार को मुकाबला हुआ जिसे मुंबई टीम ने 5-2 से जीता था। इस मुकाबले में मुंबई की कप्तान और आइकन खिलाड़ी साक्षी मलिक ने टॉस जीता और तुरंत उन्होंने दो बार के ओलंपिक पदक विजेता सुशील को ब्लॉक कर दिया।

सुशील ने दूसरी तरफ मुंबई की स्टार पहलवान ओडुनायो को ब्लॉक किया। सुशील को ब्लॉक किये जाने से दर्शक उन्हें मैट पर उतरता देखने से वंचित रह गए। सुशील पिछले दो साल लीग में नहीं खेले थे और इस बार उन्हें लीग में पदार्पण करना था। सुशील के न उतरने की मायूसी दर्शकों में साफÞ दिखाई दी जो भारी संख्या में सीरीफोर्ट स्टेडियम में उनका मुकाबला देखने पहुंचे थे।  

Source : agency