बेंगलुरु 
कर्नाटक में विधानसभा चुनावों से पहले राज्य के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया और यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ के बीच जुबानी जंग जारी है। इस बार सिद्धारमैया ने योगी द्वारा हिंदुत्व और खानपान के मुद्दे पर किए गए हमले का जवाब दिया है। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा, 'मैंने गायों की देखभाल की है, मैंने उन्हें चारा खिलाया है और उनका गोबर भी साफ किया है। ऐसे में योगी किस नैतिक आधार पर मेरी आलोचना कर सकते हैं? क्या उन्होंने कभी गायों की देखभाल की है?'

 

सिद्धारमैया यहीं नहीं रुके, उन्होंने एक और ट्वीट करते हुए लिखा, 'हिंदू धर्म में बहुत से लोग बीफ खाते हैं। अगर मुझे भी बीफ खाने की इच्छा होती तो मैं भी इसे खाता। मुझे बीफ पसंद नहीं है, इसलिए मैं इसे नहीं खाता। इस बारे में सवाल करने वाले वह (योगी) कौन होते हैं?' 

 
इससे पहले बेंगलुरु में आयोजित नव कर्नाटक परिवर्तन रैली में योगी ने कहा था, 'कर्नाटक के मुख्यमंत्री बयान दे रहे हैं कि वह हिंदू हैं। आज उन्होंने हिंदुओं की ताकत देखी तो हिंदुत्व याद आ रहा है। ठीक वैसे ही जैसे राहुल गांधी को गुजरात विधानसभा चुनाव के दौरान मंदिर याद आ रहे थे। हिंदुत्व तो भारत की जीवन पद्धति है। हिंदुत्व कोई जाति, मत या मजहब नहीं है बल्कि भारत के अनुसार जीवन जीना है। जीवन की उत्कृष्तम जीवन पद्धति हिंदुत्व है।' इसके अलावा योगी ने कहा था, 'हिंदुत्व गोमांस खाने की वकालत नहीं करता है। कर्नाटक के सीएम से मैं पूछना चाहता हूं कि अगर वह हिंदू हैं तो गोमांस खाने की पैरवी करना कितना उचित है? कर्नाटक में बीजेपी की सरकार थी, तब गो-संरक्षण के लिए विधेयक लाए थे लेकिन कांग्रेस ने उसे आगे नहीं बढ़ने दिया।' 

Source : Agency