इंग्लैंड के इस मशहूर फुटबॉल खिलाड़ी को पसंद है क्रिकेट, खुद को बताया विराट कोहली बड़ा प्रशंसक

Publish Date:Fri, 19 Jul 2019 12:24 PM (IST)

नई दिल्‍ली [जागरण स्‍पेशल]। हैरी केन लंदन के एक ऐसे युवा हैं, जो न सिर्फ अपने क्लब बल्कि अपने देश के लिए भी रोल मॉडल बन गए हैं। टॉटनहम फुटबॉल क्लब और इंग्लैंड के इस स्ट्राइकर ने हाल ही में अपनी बचपन की दोस्त से शादी की। पहली बार टॉटनहम को चैंपियंस लीग के फाइनल में पहुंचाने के बाद उन्होंने यह फैसला लिया। हॉलैंड के साथ नेशंस लीग में भी इंग्लैंड की भिड़ंत में उनकी अहम भूमिका रही थी। अब वह उतार-चढ़ाव भरी फुटबॉल की यात्रा से उबरते दिख रहे हैं और एक कदम आगे बढ़ते हुए खिताब जीतना चाहते हैं। वो भी अपने क्लब और राष्ट्रीय टीम की ओर से।

पिछले सत्र के अंत में फाइनल में मिली हार से क्या उबर गए हैं?

– आपको पेशेवर होना ही होता है। निश्चित तौर पर वह काफी निराशाजनक था। कोई भी मैच हारना अच्छा नहीं होता। लिवरपूल और हॉलैंड के खिलाफ हमारे पास अच्छा मौका था, लेकिन फुटबॉल में छोटी-छोटी चीजें बहुत मायने रखती हैं। मुझे लगता है कि इन अनुभवों से सीखकर एक अच्छा खिलाड़ी बना जा सकता है क्योंकि नियम दोनों ही टीमों के लिए बराबर थे। हम पिछली बात को लेकर नहीं बैठ सकते और हमने इससे काफी कुछ सीखा है।

इसका मतलब यह है कि टॉटनहम और इंग्लैंड के लिए टीम अपने स्टाइल में बदलाव करेगी?

– नहीं, बिल्कुल नहीं। हार के बावजूद अपने तरीके से ही खेलते रहना काफी अहम है। एक टीम के तौर पर हमें मैनेजर द्वारा उठाए जाने वाले कदमों पर पूरा भरोसा है। टॉटनहम के लिए सभी खिताबों के लिए अपनी चुनौती पेश करना और इंग्लैंड के लिए यूरो 2020 जीतने की कोशिश करना काफी अहम है। हमारे खिलाड़ी अपने खेल में सुधार कर रहे हैं और उनमें जीत के लिए भूख है। मुझे लगता है कि इन चीजों से ही आप बेहतर बन सकते हैं।

भावनात्मक और शारीरिक प्रभाव के बारे में आप क्या कहेंगे? क्या आप नए प्रीमियर लीग सत्र के लिए तैयार हैं?

– मैं तैयार हो जाऊंगा। जब भी आप फाइनल्स या सेमीफाइनल्स हारते हैं तो दिल दुखता है और कुछ समय तक यह आपके जेहन से नहीं निकल पाता। इस सत्र में ऐसा हमारे साथ हुआ, लेकिन नए सत्र के लिए वापसी करने के लिए हम तैयार हैं। लक्ष्य एक ही है, साल दर अपने खेल में सुधार लाना। हम ऐसा कर चुके हैं और ऐसी स्थिति में हैं, जहां बड़े टूर्नामेंटों में कड़ी टक्कर दे सकते हैं। हमारे मैनेजर की मौजूदगी से हमारा प्रदर्शन बेहतर ही हो रहा है। हालांकि यह समय जल्दी आ गया, लेकिन हम फिर से तैयार हैं। हाल के वर्षों में सिर्फ मैं ही नहीं बल्कि लगभग पूरी टीम ही काफी ज्यादा खेली है। शीर्ष स्तर पर फुटबॉल खेलने पर यह जीवन का हिस्सा है। अब हमारे पास खुद को रिचार्ज करने का समय है और हम पिछले सत्र के प्रदर्शन का इस्तेमाल इस सत्र की तैयारियों के लिए करेंगे।

टॉटनहम से अलग क्या इंग्लैंड अगले साल यूरो कप में चुनौती पेश कर सकता है?

– यही हमारा लक्ष्य है। इस समय इंग्लैंड की टीम का हिस्सा बनना बेहद शानदार है क्योंकि हमारे पास ऐसे कई खिलाड़ी हैं, जिनके प्रदर्शन में सुधार हो रहा है। ये खिलाड़ी बेहतर प्रदर्शन करना चाहते हैं और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सफल होना चाहते हैं। हालांकि अभी भी हमें काफी कुछ सीखने की जरूरत है। हमारे पास ऐसे खिलाड़ी हैं, जो खेल का रुख बदल सकते हैं। पिछले साल विश्व कप के सेमीफाइनल में पहुंचने के बाद हमें खुद से काफी अपेक्षाएं हैं। अब हमारे प्रशंसकों को ज्यादा बेहतर की उम्मीद है। मगर हम एक पेशेवर खिलाड़ी के तौर पर यही चाहते हैं।

आप अभी 30 साल के भी नहीं हुए हैं, इसके बावजूद आप टीम के सीनियर खिलाड़ी हैं। कैसा महसूस करते हैं आप?

– मुझे बहुत पसंद है। मुझे पता है कि अब टीम में सीनियर खिलाड़ियों में से एक हूं। मुझे लगता है कि युवा खिलाड़ी मुझे एक बेहतर खिलाड़ी बनने में मदद कर सकते हैं। हमें खिताब जीतने के लिए भी उनकी मदद की जरूरत है।

क्रिकेट विश्व कप के दौरान लॉड्र्स में भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली के साथ आपकी मुलाकात कैसी रही?

– शानदार। मुझे क्रिकेट बहुत पसंद है और इंग्लैंड के खिलाफ भारत के मैच को छोड़ दिया जाए, तो मुझे विराट कोहली की बल्लेबाजी देखना पसंद है। मैं उनका बड़ा प्रशंसक हूं। मुझे उनके खिलाफ थोड़ी बल्लेबाजी करने का मौका भी मिला और यहां तक कि मैंने उनके लिए गेंदबाजी भी की। बहुत मजा आया। यह देखना हमेशा रोचक होता है कि क्रिकेटर मैच से पहले हमेशा वार्म अप के लिए फुटबॉल खेलते हैं क्योंकि आप हमें किसी मैच से पहले कभी क्रिकेट खेलते नहीं देखेंगे।

Posted By: Sanjay Pokhriyal

Related Posts

About The Author

Add Comment